कन्या राशि- वार्षिक 2019

कन्या राशि- वार्षिक 2019

जनवरी – 01 से 10 जनवरी 2019 तक – मंगल-शनि की दृष्टि एवं द्वितीय चंद्रमा होने से काम में तेजी एवं अच्छी आय की प्राप्ति होगी। अच्छी सलाह से सही निर्णय लेने में सफल होंगे। बिजनी उपकरणों का प्रयोग सावधानी पूर्वक करें। 6 से 8 तारीख को सतर्क रहने का समय रहेगा। आय भी कम रहेगी।

11 से 20 जनवरी 2019 तक – चंद्र की पूर्ण दृष्टि से आय में वृद्धि रहेगी। 13 से 15 में कमी भी रहेगी। इस दौरान मन खिन्न रह सकता है। संतान की चिंता भी रहेगी। अचानक कुछ विचलित करने वाली घटना हो सकती है। विवाद करने वालों से दूर रहें। 16 से अच्छा महसूस करेंगे। 20 तक कोई परेशानी आने की संभावना नहीं है।

21 से 31 जनवरी 2019 तक – शनि का ढै़य्या पूरे प्रभाव में रहेगा। शनि मित्र होने से ज्यादा परेशान करने वाला नही होगा। कार्यस्थल पर संभलकर कार्य करना होगा एवं विवादों से दूर रहना होगा। सीमा में रहकर कार्य करना होगा। व्यापार में कोई रिस्क लेने से बचना चाहिए। किसी भी प्रकार के जोखिम से बचने का प्रयास करें।

नौकरी – अपने वरिष्ठ अधिकारियों से भी आपका विवाद हो सकता है। इस राशि के बेरोजगारों को नौकरी मिल सकती है। आप जॉब स्विच करने का मन बना रहे हैं तो आपको अच्छे ऑफर्स भी मिल सकते हैं। इसके अलावा काम करने की जगह में बदलाव होने की संभावना है।

व्यवसाय – बिजनेस करने वाले लोग इस महीने बड़ा निवेश करने का मन बना सकते हैं। दूर स्थान के लोगों से बिजनेस में मदद मिल सकती है। हालांकि कुछ लोग बिजनेस में रुकावटें भी पैदा करने की कोशिश कर सकते हैं। लेन-देन के मामले में आपको संभलकर रहना होगा। उधार वाले मामलों में सावधानी रखनी होगी।

परिवार – आपके रहन-सहन के स्तर में सुधार होगा। वहीं अपने नजदीकी संबंधियों, मित्रों या सहयोगियों से अलगाव हो सकता है। आप अपने घर की बाहरी या भीतरी सजावट पर काफी धन खर्च कर सकते हैं। आप किसी धनी व्यक्ति या किसी दूसरे धर्म, समुदाय अथवा जाति विशेष के व्यक्ति के साथ साझेदारी में कोई नया कार्य आरम्भ कर सकते हैं।

सेहत – इस महीने यात्राओं के कारण आपकी सेहत पर नाकारात्मक असर पड़ सकता है। सेहत संबंधी आपकी शारीरिक आदतों में भी बदलाव होने के योग बन रहे हैं। कोई अच्छी आदत आपको लग सकती है। इस महीने मानसिक परेशानियों का असर आपकी सेहत पर पड़ सकता है। आपको कुछ साधारण रोग जैसे पेट में गड़बड़ी अथवा आंख के रोगों होने की संभावना है। आप अपने स्वास्थ्य पर खर्चा भी करेंगे। माता-पिता की सेहत भी खराब हो सकती है।

संपत्ति – इस महीने आपको कई स्रोतों से धन लाभ हो सकता है। आपका पारिवारिक जीवन भी आनन्दमय होगा। आप किसी बड़ी वित्तीय संस्था से धन ले सकते हैं और कोई महंगी सम्पत्ति भी खरीद सकते हैं। इसके अलावा आप अपने घर की बाहरी या भीतरी सजावट पर काफी धन खर्च कर सकते हैं।

दाम्पत्य – इस महीने जीवनसाथी से अनबन होने के योग बन रहे हैं। कामकाज ज्यादा होने के कारण आप लाइफ पार्टनर के लिए समय नहीं निकाल पाएंगे। इसका असर आपके दाम्पत्य जीवन पर भी पड़ेगा। इस राशि के जो लोग लव मैरिज करने का मन बना रहे हैं उनके लिए समय ठीक कहा जा सकता है। इस महीने दाम्पत्य जीवन के कुछ बड़े फैसले आप ले सकते हैं।

उपाय –

– हर बुधवार को गणेश मंदिर में मोदक चढ़ाएं।

– कांसे के बर्तन में मूंग भरकर दान करें।

– गणेश जी को गुड़ और दूर्वा चढ़ाएं।

फरवरी –

1 से 10 फरवरी 2019 – राशि पर गुरु-मंगल की दृष्टि एवं चंद्र चतुर्थ होने से संघर्ष का समय हो सकता है। अपनी बात साबित करने के लिए अत्यधिक प्रयास करने होंगे। 3 फरवरी के बाद से समय पक्ष का हो जाएगा एवं सफलताएं मिलने लगेंगी। 8 फरवरी से सतर्क रहना होगा एवं विवादों से दूर रहें।

11 से 20 फरवरी 2019 – कार्य स्थल पर संभलकर रहना होगा एवं लेन-देन में भी सावधानी रखें। गुप्त बातें लीक होने का खतरा है। निकट के लोग धोखा कर सकते हैं। 15 फरवरी से समय पक्ष में रहेगा एवं सभी ओर से सुधार होगा। न्यायालयीन मामलों में पक्ष मजबूत होगा। ऋण संबंधी मामलों में सफलता मिलेगी एवं काम समय पर पूरे होंगे।

21 से 28 फरवरी 2019 – शनि की दृष्टि के साथ चतुर्थ चंद्र रहेगा। फिर भी समय अच्छा बना रहेगा। कारोबार में तेजी रहेगी एवं मित्रों से सहयोग मिलेगा। कोई अटका काम समय पर पूरा हो सकता है। 27 एवं 28 फरवरी को समय अनुकूल नहीं रहेगा। इन दिनों में आवश्यक कार्य को टालने का प्रयास करें।

नौकरी – कन्या राशि वालों पर शनि की ढैय्या है, इस कारण जॉब में अतिरिक्त सावधानी बरतने और मेहनत करने का समय है। नौकरी में अधिकारियों की नाराजगी का सामना करना पड़ सकता है। सहकर्मी टारगेट के मामले में आपसे आगे निकल सकते हैं, इसलिए बिना निराशा को अपने ऊपर हावी किए, आप पूरा जोर लगाकर अपनी मेहनत करते रहें।

व्यवसाय – कन्या राशि के व्यापारियों को फरवरी 2019 में कुछ सौदों में घाटा उठाना पड़ सकता है। बिना कागजी कार्यवाही के किसी प्रकार का सौदा ना करें। आपको कुछ लोगों से धोखा मिल सकता है। टेंडर आदि के काम में आपको बहुत सतर्कता से कार्यवाही करनी होगी। अपनी डेटलाइन का पूरा ख्याल रखें। महीने के अंत में कुछ लाभकारी स्थितियां आपके लिए बन सकती हैं।

परिवार – पारिवारिक दृष्टि से महीना मिलाजुला रहेगा। रिश्तों में एक अजीब सी उदासीनता का एहसास आपको होगा। लेकिन, ये स्थायी नहीं है। परिवार आपके लिए सकारात्मक रहेगा। माता-पिता से आशीर्वाद मिल सकता है। स्नेह बना रहेगा। भाइयों से भी आपके संबंध मधुर और सहयोगात्मक रहेंगे। परिवार में किसी मांगलिक कार्य या धार्मिक अनुष्ठान का आयोजन हो सकता है।

सेहत – सेहत के लिहाज से फरवरी 2019 आपके लिए थोड़ी सतर्कता बरतने का समय है। पुराने रोगों से परेशानी बढ़ सकती है, सितारों की सलाह है कि हेल्थ को लेकर आप थोड़ी भी लापरवाही ना करें। चिकित्सकीय सलाह और दवाई नियमित रखें। जीवनशैली में कुछ बदलाव आपके लिए बेहतर हो सकते हैं।

दाम्पत्य – फरवरी 2019 गृहस्थी के लिए कुछ मिलाजुला रहेगा। जीवन साथी से संबंध सामान्य रहेंगे। प्रेम बना रहेगा। किसी बात पर विवाद हो सकता है, आपकी जीवनशैली या पारिवारिक संबंधों को लेकर जीवनसाथी असंतोष जताएगा। किसी भी तरह के विवाद में आपका मौन और नुकसान करा सकता है। प्रेमपूर्वक अपना पक्ष रखने से विवादों का निपटारा जल्दी होगा।

संपत्ति – सम्पत्ति के मामले में किसी भी तरह के विवाद में फरवरी 2019 में ना पड़ें। आपको किसी भी तरह से सम्पत्ति की खरीदी, बिक्री या दलाली के मामलों में पड़ने से बचना चाहिए। खासकर फरवरी के अंतिम दिनों में किसी भी तरह के कानूनी विवाद से दूर रहने की सलाह सितारे दे रहे हैं। इससे आपको नुकसान हो सकता है।

उपाय –

शनि की ढैय्या के लिए काली चीजों का दान करें।

हर मंगलवार और शनिवार हनुमान मंदिर में दर्शन करने जाएं।

भिखारियों को कंबल दान करें।

मार्च –

1 से 10 मार्च 2019 – मित्र शनि की दृष्टि एवं चतुर्थ चंद्रमा होने से आय में गिरावट रह सकती है। शनि के ढ़ैय्या का असर पूर्ण बना रहेगा। 4 मार्च से आय में सुधार की उम्मीद है। कार्य स्थान पर विवाद थमेगा एवं सही ढंग से काम होंगे। विद्यार्थियों को अतिरिक्त मेहनत करनी होंगी।

11 से 20 मार्च 2019 – दोपहर से नवम चंद्रमा होगा, समय सब प्रकार से अच्छा रहेगा। जिम्मेदारी के काम मिलेंगे एवं सोच के अनुसार काम बनते जाएंगे। यात्रा सुखद रहेगी एवं संतान से सुख प्राप्त होगा। 18 से 19 मार्च के मध्य में पड़ोसियों से विवाद हो सकता है। ध्यान भटक सकता है। विद्यार्थियों एवं महिलाओं को अपने कार्य क्षेत्र में मेहनत ज्यादा करनी होगी।

21 से 31 मार्च 2019 – चंद्र का गोचर एवं सूर्य-शनि की दृष्टि रहेगी। कार्य में विघ्र आ सकते हैं। 23 एवं 24 मार्च को समस्याएं रहेंगी, उसके बाद से आय अच्छी बनी रहेगी एवं न्यायालयीन मामलों में सफलता प्राप्त होगी। भाई से प्रेम में कमी आ सकती है। भाग्य का सहयोग बना रहेगा।

नौकरी – नौकरी में आपको इस महीने थोड़े तनाव का सामना करना पड़ सकता है। परिस्थितियां प्रतिकूल महसूस होंगी। काम का पूरा परिणाम मिलने में संदेह रहेगा। लाभ के मौके भी मिल सकते हैं।

व्यापार – व्यापार में कोई मामला अगर कोर्ट में है तो इस महीने आपको राहत मिलने के संकेत हैं। किसी भी नई कंपनी या संस्थान से व्यापारिक सौदे करते समय पूरी सावधानी रखें।

परिवार – इस महीने आपको संतान से सुख प्राप्त हो सकता है। यात्रा की योजना है तो वो सुखदायक और आनंदपूर्ण रहने के संकेत हैं। परिवार का पूरा सहयोग आपको मिल सकता है।

सेहत- सेहत के लिए समय ठीकठाक कहा जा सकता है। किसी तरह की बीमारी या कोई इंफेक्शन हो सकता है। कोई पुराना रोग है तो उसमें राहत मिलने के भी संकेत मिल रहे हैं।

दाम्पत्य – जीवन साथी से सब प्रकार से सुख की प्राप्ति होगी। किसी धार्मिक आयोजन में शामिल होने का मौका मिलेगा। गृहस्थी सुखमय और आनंददायक रहेगी।

सम्पत्ति – सम्पत्ति से जुड़े किसी पुराने विवाद में समझौता या निपटारा हो सकता है। आपके प्रयासों से इस मामले में कोई लाभ मिलने के संकेत सितारों से मिल रहे हैं। अपने प्रयासों में गति लाने का समय है।

उपाय –

किसी गणेश मंदिर में सिंदूर अर्पित करें।

हनुमान चालीसा का नियमित पाठ करें।

कन्याओं को वस्त्रादि भेंट करें।

अप्रैल –

1 से 10 अप्रैल 2019 – पंचम चंद्रमा एवं शनि की दृष्टि से राशि ताकतवर है। कार्य की अधिकता के साथ धन लाभ भी होगा। हर शाम को भाग्य साथ देगा एवं सुबह का समय आय का रहेगा। तय समय में काम होंगे एवं जमीन से लाभ होने की संभावना है। निवेश भी लाभदायक होंगे। प्रेम में सफलता प्राप्त होगी एवं नौकरी में तरक्की हो सकती है।

11 से 20 अप्रैल – बेहतर समय बना रहेगा। योग्यता से अधिक काम मिल सकता है। कार्य का क्रेडिट भी प्राप्त होगा। अधिकारी प्रसन्न रहेंगे एवं आर्थिक स्थिति बेहतर बनी रहेगी। 17-18 अप्रैल को कुछ समस्याएं आ सकती हैं। इन दिनों में मदद की अपेक्षा बेकार जाएगी। 19 से 20 अप्रैल का समय राहत भरा हो सकता है। इसमें आय अच्छी एवं सहयोग प्राप्त होगा।

21 से 30 अप्रैल – चंद्र का गोचर राशि से द्वितीय में होने से प्रबल भाग्य एवं आय की अच्छी स्थिति रहेगी। योजनाएं सफल होंगी एवं विरोधी परेशान होंगे। नए लाभकारी संपर्क बनेंगे। 26 से 28 अप्रैल की सुबह तक का समय मामूली परेशानी वाला हो सकता है। माह के अंत में पुन: अच्छी स्थिति में आ जाएंगे।

नौकरी – नौकरी के लिए ये समय आपको लाभ देगा। प्रमोशन और आर्थिक लाभ के योग बन रहे हैं। अधिकारी आपके काम से संतुष्ट और प्रसन्न रहेंगे। आपकी तरक्की हो सकती है।

व्यापार – व्यापार के मामलों में आपको इस महीने सितारों का पूरा सहयोग मिलेगा। कोई लाभकारी संपर्क मिल सकता है। जो आपको धन का लाभ कराने में सहायता कर सकता है।

परिवार – परिवार में कोई आनंद उत्सव आयोजित हो सकता है। कुंटुंब के लोगों से मिलना होगा। घर में मेहमानों का आना भी होगा। संतान से सुख और भाइयों से सहयोग मिलेगा।

सेहत – इस महीने आप अपने शरीर के रोगों को हराने में सफल हो सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर कोई अच्छी जानकारी आपके हाथ लग सकती है। पुराने रोगों से सावधान रहें।

दाम्पत्य – जीवनसाथी आपके लिए काफी भावनात्मक रहेगा। रिश्ते में मधुरता आएगी। कुंवारे लोगों को विवाह के अच्छे प्रस्ताव मिल सकते हैं। प्रेम संबंधों में भी आपको सफलता मिल सकती है।

सम्पत्ति – सम्पत्ति के विवाद में आपके पक्ष में कोई मजबूत फैसला आ सकता है। कानूनी विवाद में विरोधियों पर हावी रह सकते हैं। नई सम्पत्ति खरीदने के लिए समय अनुकूल है।

उपाय –

भगवान गणपति की आराधना करें।

अपने पुराने कपड़े गरीबों को दान करें।

हनुमान मंदिर में गुड़-चने का भोग लगाएं.

मई –

-1 से 10 मई – शनि, बुध, शुक्र एवं चंद्र की पूर्ण दृष्टि से सोचे हुए कार्य आसानी से संपन्न होंगे। माता से सुख मिलेगा। मित्रों से मुलाकात होगी। नए कारोबार की रूपरेखा बनेगी। व्यापार का विस्तार होगा। कार्य स्थल पर सफलता मिलेगी। शनि के ढै़य्या को असर कम रहेगा। 2-3 तारीख को कुछ समस्याएं आ सकती हैं। शेष समय में कोई परेशानी आने की संभावना नही है।

11 से 20 मई – एकादश चंद्र एवं मंगल-शनि की दृष्टि होने से आपको अप्रत्याशित लाभ प्राप्त होगा। अटके धन की प्राप्ति होगी। माता के स्वास्थ्य को लाभ होगा। परिवार का सहयोग एवं समर्थन मिलेगा। 12-13 को समय विपरीत होगा एवं उसके बाद पक्ष का हो जाएगा। लक्ष्य प्राप्त होगा एवं संतान से सुख मिलेगा।

21 से 31 मई – शनि एवं मंगल की दृष्टि रहेगी। चंद्र चतुर्थ होने से बेकार के काम ज्यादा होंगे। 22 की शाम से कुछ राहत प्राप्त होगी। 24 के बाद समय पूर्ण अनुकूल हो जाएगा। व्यापार उत्तम रहेगा एवं नौकरी में तरक्की प्राप्त होगी। माहांत में सब प्रकार के सुख रहेंगे। यात्रा सुखद होगी एवं मित्रों से मुलाकात हो सकती है।

नौकरी – जॉब में इस महीने आप पूरी तरह अपनी प्लानिंग के अनुसार काम पूरे कर पाएंगे। अचानक आपको कोई बड़ा लाभ मिल सकता है। सोचे काम समय पर होंगे, सम्मान मिलेगा।

व्यापार – नया व्यापार शुरू करने की सोच रहे हैं तो इस महीने आप अपनी योजना को अंजाम दे सकते हैं। कोई बड़ा लाभ व्यापार में आपको मिल सकता है।

परिवार – परिवार के लिए अच्छी सूचनाएं आपको मिल सकती हैं। माता-पिता के स्वास्थ्य में काफी सुधार होगा। संतान आपके फेवर में रहेगी। भाइयों से थोड़ा मन-मुटाव हो सकता है।

सेहत – सेहत के लिए समय अच्छा रहेगा। आप बीमारियों से काफी राहत महसूस करेंगे। पुराने रोगों में सुधार होगा। सेहत के लिए इस महीने आप कुछ विशेष प्रयास भी कर सकते हैं।

दाम्पत्य – जीवनसाथी से आपको कोई सरप्राइज मिल सकता है। आपके रिश्ते काफी मजबूत होंगे। कोई परेशानी आप दोनों मिल कर दूर करेंगे। किसी तरह के विवाद का संकेत नहीं है।

सम्पत्ति – सम्पत्ति से लाभ मिल सकता है। आपको थोड़ा मार्केट रिसर्च पर ध्यान देने की जरूरत है। एक बड़ा मौका आपको मिल सकता है, जिससे आप अच्छा लाभ कमा सकते हैं।

उपाय –

गणपति की आराधना करें और दूर्वा अर्पित करें।

किन्नरों को सम्मान दें और पैसे भेंट करें।

किसी कन्या को वस्त्र दान करें।

जून –

1 से 10 जून – अष्टम चंद्रमा रहेगा। मंगल-शनि की दृष्टि पूर्व से प्राप्त है। 3 तारीख के बाद से आय बेहतर हो जाएगी एवं विवादों में सुलह होगी। वाहन सुख मिलेगा एवं मित्रों से सहयोग प्राप्त होगा। कार्य की अधिकता होगी एवं निवेश से फायदा प्राप्त होगा। कार्य शैली बेहतर रहेगी। नए काम भी मिलेंगे। नौकरी में उत्साह बना रहेगा।

11 से 20 जून – आरंभ में लक्ष्य से दूरी एवं तनाव बनाएगा। कार्य में देरी हो सकती है। 12 की शाम से खुशियों की प्राप्ति होगी। लाभदायी सौदे होंगे एवं नौकरी में अधिकारी प्रसन्न रहेंगे। 19-20 को सतर्क रहने का समय होगा। कीमती वस्तुओं की रक्षा करें एवं हर किसी पर भरोसा नहीं करें। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा।

21 से 30 जून – मंगल-शनि की दृष्टि से राशि को देखेगा। चंद्रमा चतुर्थ रहेगा। 22 के बाद से हर कार्य में सफलता मिलेगी। शुभ समाचार मिलेंगे। धार्मिक कार्य संपन्न होंगे एवं परिवार खुश रहेगा। यात्रा सफल होगी एवं नए काम की प्राप्ति भी होगी। विवाह प्रस्तावों की प्राप्ति होगी। वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा एवं प्रेम में सफलता मिलने के साथ विद्यार्थी सफल होंगे।

नौकरी – काम अधिक रहेगा लेकिन आप समय पर अपने प्रोजेक्ट पूरे करने में सफल हो सकते हैं। कोई परेशानी नहीं आएगी। अधिकारियों और साथियों का सहयोग बना रहेगा।

व्यापार – व्यापार में कोई बड़ा कांट्रेक्ट आप हासिल कर सकते हैं। ये आपके लिए बहुत लाभकारी साबित होगा। अपनों से पूरा सहयोग मिलेगा। कर्मचारी भी प्रसन्न रहेंगे।

परिवार – परिवार से तनाव और अस्थिरता दूर होगी। कोई अच्छी सूचना आपको मिल सकती है। जिससे परिवार में हर्ष रहेगा। मित्रों से मिलन होगा और मित्रों से भरपूर सहयोग भी मिलेगा।

सेहत – सेहत के लिए समय अच्छा रहेगा। पुराने रोगों से छुटकारा मिल सकता है। आप प्रयास करेंगे तो राहत मिलेगी.

दाम्पत्य – दाम्पत्य में भी समय अच्छा रहने वाला है। कोई खुशखबर आपको मिल सकती है। जीवनसाथी से उपहार प्राप्त हो सकता है।

सम्पत्ति – सम्पत्ति में लाभकारी सौदे आपके सामने आ सकते हैं। नया वाहन खरीदने और व्यापार के लिए भूमि-भवन खरीदने का भी मन बन सकता है।

उपाय –

घर में कलश की स्थापना करें।

रोज 11 बार श्रीगणेशाय नमः का जाप करें।

घर में गणेश जी की पूजा करें।

जुलाई –

1 से 10 जुलाई – शनि की दशम पूर्ण दृष्टि राशि पर है। चंद्र का गोचर उत्तम होने से राशि सर्वप्रकार से अनुकूल है। समस्याओं का निदान होगा एवं कई जगहों से एक साथ लाभ प्राप्त होगा। योजनाएं सफल होंगी एवं नए कार्यों की प्राप्ति होगी। वैवाहिक प्रस्तावों की प्राप्ति होगी।

11 से 20 जुलाई – पूर्ववत शनि की दृष्टि प्राप्त होगी एवं चंद्र का गोचर द्वितीय में रहेगा। अन्य ग्रहों को नेगेटिव प्रभाव नहीं होने से चारों ओर से सफलता की प्राप्ति होगी। आय बेहतरीन बनी रहेगी एवं कार्य समय पर होंगे। रोगों में लाभ होगा। संतान से सुख प्राप्त होगा। नए कार्यों को आरंभ हो सकता है।

21 से 31 जुलाई – शनि की पूर्ण दृष्टि राशि पर रहेगी। 23-24 को चंद्र भी दृष्टि रखेगा। समय सर्व प्रकार अनुकूल रहेगा। आय उत्तम एवं व्यापार में तरक्की होगी। योजनाएं सफल रहेंगी। 25-26 को कुछ अज्ञात चिंताएं रह सकती हैं। उसके बाद माहांत तक कोई समस्याएं आने की संभावना नहीं है।

नौकरी – जॉब में कोई परेशानी इस महीने से नहीं आएगी। काम समय पर पूरे होंगे। अधिकारी प्रसन्न रहेंगे। कोई बड़ा प्रोजेक्ट पूरा होने से आपको राहत मिलेगी।

व्यापार – व्यापार में नए अवसरों के साथ ही नए लोगों से भी संपर्क होंगे। ये संपर्क आपको कुछ बड़ा लाभ भविष्य में दिलाएंगे। धन की आवक नियमित रहेगी। लाभ मिलेगा।

परिवार – परिवार के लिए समय अच्छा रहेगा। संतान से कोई सुखकारी जानकारी मिल सकती है। किसी पारिवारिक उत्सव में शामिल हो सकते हैं।

सेहत – सेहत में सुधार जारी रहेगा। आप खुद को ज्यादा स्वस्थ्य और तरोताजा महसूस कर सकते हैं।

दाम्पत्य – जीवनसाथी से समर्थन मिलेगा। रिश्ते की मधुरता बरकरार रहेगी। आपके जीवन में कोई महत्वपूर्ण सूचना खुशियों को बढ़ाएगी। किसी भी तरह से विवाद के संकेत नहीं है।

सम्पत्ति – सम्पत्ति में बढ़ोत्तरी के संकेत हैं। आप कोई नई योजना बना सकते हैं। किसी पुरानी सम्पत्ति को बेचकर कुछ नई प्रॉपर्टी लेने का मन बनेगा।

उपाय –

शनि देव की आराधना करें।

हनुमानजी को गुड़-चने का भोग लगाएं।

किसी मंदिर में फलों का दान करें।

अगस्त –

1 से 10 अगस्त – शनि की पूर्ण दृष्टि राशि पर है। चंद्र एकादश है। समय पक्ष का बना है। व्यापार में लाभ एवं सरकारी कार्यों के अड़ंगे समाप्त होंगे। 3-4 तारीख का समय सचेत रहने का होगा। 5 से सभी बातें अनुकूल हो जाएंगी। बेरोजगारों को रोजगार की प्राप्ति होगी एवं विद्यार्थी नए सीजन में स्वयं को अनुकूल करने में असहज होंगे।

11 से 20 अगस्त – 14 अगस्त से सूर्य-मंगल द्वादश हो जाएंगे। संतान से सुख एवं लाभ की वृद्धि होगी। अनजान व्यक्ति की वजह से परेशानी आ सकती है। वाहन प्रयोग में सावधानी रखें। व्यापार में कर्मचारी परेशान करेंगे। रक्तचाप की समस्याएं हो सकती है। पेट एवं पैरों में दर्द रहेगा।

21 से 31 अगस्त – समय सब प्रकार अनुकूल रहेगा। विवादों एवं न्यायलयीन कार्यों में सफलता मिलेगी। विरोधी का स्वर धीमा होगा। व्यापार में अनुकूलता रहेगी एवं नौकरी में अधिकारी संतुष्ट रहेंगे। आय अच्छी बनीं रहेगी। आलस्य की अधिकता रहेगी। यात्रााएं सुखद रहेंगी। माहांत में नए कामों में अड़चनें आ सकती हैं।

नौकरी – जॉब के लिहाज से समय अच्छा रहेगा। किसी नई नौकरी का प्रस्ताव भी मिल सकता है। बेरोजगार लोगों को भी इस महीने नौकरी मिलने की संभावना बनेगी।

व्यापार – अगर आप सरकारी सप्लायर हें तो इस महीने आपके सारे अटके काम पूरे हो सकते हैं। कोई नया टेंडर भी मिल सकता है। व्यापार के लिए समय अनुकूल है।

परिवार – परिवार के लिए समय सहयोगात्मक रहेगा। परिजन आपको सपोर्ट करें। किसी बात पर थोड़ा तनाव हो सकता है लेकिन समस्याओं को आप आसानी से सुलझा पाएंगे।

सेहत – सेहत के लिए समय ठीक रहेगा। कुछ मौसमी बीमारी से परेशानी हो सकती है। पुराने रोगों में राहत रहेगी।

दाम्पत्य – जीवनसाथी आपके लिए सहयोग की भावना रखेगा। प्रेम बढ़ेगा। अविवाहितों को भी विवाह के प्रस्ताव मिल सकते हैं। प्रेम के लिए समय सामान्य रहेगा।

सम्पत्ति – सम्पत्ति के कानूनी विवादों में विजय मिल सकती है। आपका कोई मसला उलझा हुआ है तो मामला आपके पक्ष में बन सकता है। लाभ के योग बन रहे हैं।

उपाय –

शनिदेव की आराधना शुभ रहेगी।

मंगलवार को सुंदरकांड का पाठ करें।

सितंबर –

1 से 10 अगस्त – शनि की पूर्ण दृष्टि राशि पर है। चंद्र एकादश है। समय पक्ष का बना है। व्यापार में लाभ एवं सरकारी कार्यों के अड़ंगे समाप्त होंगे। 3-4 तारीख का समय सचेत रहने का होगा। 5 से सभी बातें अनुकूल हो जाएंगी। बेरोजगारों को रोजगार की प्राप्ति होगी एवं विद्यार्थी नए सीजन में स्वयं को अनुकूल करने में असहज होंगे।

11 से 20 अगस्त – 14 अगस्त से सूर्य-मंगल द्वादश हो जाएंगे। संतान से सुख एवं लाभ की वृद्धि होगी। अनजान व्यक्ति की वजह से परेशानी आ सकती है। वाहन प्रयोग में सावधानी रखें। व्यापार में कर्मचारी परेशान करेंगे। रक्तचाप की समस्याएं हो सकती है। पेट एवं पैरों में दर्द रहेगा।

21 से 31 अगस्त – समय सब प्रकार अनुकूल रहेगा। विवादों एवं न्यायलयीन कार्यों में सफलता मिलेगी। विरोधी का स्वर धीमा होगा। व्यापार में अनुकूलता रहेगी एवं नौकरी में अधिकारी संतुष्ट रहेंगे। आय अच्छी बनीं रहेगी। आलस्य की अधिकता रहेगी। यात्रााएं सुखद रहेंगी। माहांत में नए कामों में अड़चनें आ सकती हैं।

नौकरी – जॉब के लिहाज से समय अच्छा रहेगा। किसी नई नौकरी का प्रस्ताव भी मिल सकता है। बेरोजगार लोगों को भी इस महीने नौकरी मिलने की संभावना बनेगी।

व्यापार – अगर आप सरकारी सप्लायर हें तो इस महीने आपके सारे अटके काम पूरे हो सकते हैं। कोई नया टेंडर भी मिल सकता है। व्यापार के लिए समय अनुकूल है।

परिवार – परिवार के लिए समय सहयोगात्मक रहेगा। परिजन आपको सपोर्ट करें। किसी बात पर थोड़ा तनाव हो सकता है लेकिन समस्याओं को आप आसानी से सुलझा पाएंगे।

सेहत – सेहत के लिए समय ठीक रहेगा। कुछ मौसमी बीमारी से परेशानी हो सकती है। पुराने रोगों में राहत रहेगी।

दाम्पत्य – जीवनसाथी आपके लिए सहयोग की भावना रखेगा। प्रेम बढ़ेगा। अविवाहितों को भी विवाह के प्रस्ताव मिल सकते हैं। प्रेम के लिए समय सामान्य रहेगा।

सम्पत्ति – सम्पत्ति के कानूनी विवादों में विजय मिल सकती है। आपका कोई मसला उलझा हुआ है तो मामला आपके पक्ष में बन सकता है। लाभ के योग बन रहे हैं।

उपाय –

शनिदेव की आराधना शुभ रहेगी।

मंगलवार को सुंदरकांड का पाठ करें।

अक्टूबर –

1 से 10 अक्टूबर – द्वितीय चंद्रमा सूर्य, शुक्र एवं मंगल के गोचर के साथ शनि की दृष्टि है। पराक्रम श्रेष्ठ रहेगा एवं आर्थिक स्थिति कमजोर रह सकती है। कर्ज वाले परेशान हो सकते हैं। परिवार का सहयोग भी कम रहेगा। घमंड के कारण ज्यादा नुकसान हो सकता है। विचारों में स्थिरता नहीं रहेगी। 6-7 तारीख को आय में कमी आएगी एवं कार्य में विलंब होगा। इसके आगे समय अनुकूल रहेगा।
11 से 20 अक्टूबर – शाम के बाद चंद्र की पूर्ण दृष्टि राशि पर रहेगी। आर्थिक सुधार होगा एवं काम में मन लगेगा। व्यापार मेे तरक्की होगी एवं संतान से सुख प्राप्त होगा। नौकरी में अधिकारी सहयोग प्रदान करेंगे एवं विरोधी भी नियंत्रण में रहेंगे। अटके कार्यों में गति आएगी। न्यायालयीन कार्यों में भी पक्ष मजबूत होगा। कमीशन का कार्य करने वालों को लाभ हो सकता है।
21 से 31 अक्टूबर – शत्रु मंगल का गोचर राशि में है। शनि की मित्र दृष्टि होने से ज्यादा नुकसान नहीं होने देगा। कार्य में गति प्रदान करेगा एवं शनि की ढै़य्या होने के बावजूद स्थितियां पक्ष की बनाकर रखेगा। लक्ष्य की प्राप्ति होगी एवं नौकरी में बेहतर मौकों की प्राप्ति होगी। सजावटी सामान पर व्यय हो सकता है। आय अच्छी बनी रहेगी।

नौकरी – इस समय आपका काम बहुत अच्छा रहेगा। आप समय पर टारगेट पूरे करने में सक्षम होंगे लेकिन उसके मुकाबले आपकी आय थोड़ी कमजोर हो सकती है।

व्यापार – व्यापार में बहुत दौड़धूप होगी लेकिन लाभ कम हो सकता है। कोई नया सौदा आपको परेशानी में डाल सकता है। महीने के अंत में आपके नुकसान की भरपाई हो सकती है।

परिवार – परिवार के साथ उत्सवों में शामिल रहेंगे। किसी बात पर बहस हो सकती है। संतान से कुछ चिंताजनक स्थिति मिल सकती है। भाइयों से सहयोग मिलेगा।

सेहत – सेहत का ध्यान रखें। पुराने रोगों से परेशानी हो सकती है। दवाइयों का नियमित सेवन करें।

दाम्पत्य – दाम्पत्य अच्छा रहेगा। जीवनसाथी को कोई महंगा गिफ्ट दे सकते हैं। उपहार मिलेगा भी। प्रेमियों के लिए भी समय अच्छा गुजरेगा। विवाह की बात चल सकती है।

सम्पत्ति – कानूनी मसलों में आपकी जीत हो सकती है। पुराने सम्पत्ति के मामलों में गति आ सकती है। लाभ की स्थितियां बनेंगी।

उपाय –

दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में सिंदूर और चमेली का तेल दान करें।

गरीब या भिखारी को लोहे का एक बरतन दान करें।

नवंबर –

1 से 10 नवंबर – मित्र शनि की दृष्टि राशि पर है। शनि ढै़य्या के बावजूद समय पक्ष का बना हुआ रहेगा। यह समय धन का व्यय करने का नहीं, जोड़ने का है। फिजूलखर्च एवं दिखावे से बचें। कार्य की कमी नहीं रहेगी एवं आय भी बेहतर बनी रहेगी। सहयोग सभी ओर से प्राप्त होगा। कार्य समय पर होंगे। अपेक्षाएं पूर्ण होंगी।

11 से 20 नवंबर – ग्रहों की स्थिति पूर्ववत रहेगी एवं चंद्र अष्टम होने से तरक्की की गति में बाधा आएगी। सहयोग की अपेक्षाएं बेकार जाएगी। नए कार्य नहीं मिल पाएंगे। 13 तारीख से स्थितियों में सुधार आएगा एवं धन की आवक सुधरेगी। विवादों पर विराम लगेगा। कार्य स्थान पर सुखद वातावरण रहेगा। सुख-सुविधाओं पर व्यय होगा। नवीन काम भी होंगे।

21 से 30 नवंबर – द्वादश चंद्र के साथ समय आंरभ होगा। शनि की दृष्टि बनी रहेगी। योजनाएं सफल होंगी एवं कुछ नकारात्मक बातें सामने आ सकती हैं। मन में भी उलझन रहेगी। चंद्र के कारण आय बेहतर बनी रहेगी। 27-28 रक्तचाप एवं शुगर वालों के लिए परेशानी भरे दिन हो सकते हैं। कीमती सामान की रक्षा करें। अनजान पर भरोसा नहीं करें।

नौकरी – नौकरी में आय बढ़ेगी लेकिन व्यय भी रहेंगे। इस बात की योजना बनाएं कि पैसे का इंवेस्टमेंट सही हो। ये बचत भविष्य में लाभदायक हो सकती है। काम का दिखावा ना करें। शांत रह कर काम करें।

व्यापार – व्यापार में पूंजी के निवेश पर गौर से विचार करें। किसी अनजान की सलाह से कोई काम ना करें। नए लोग सलाह देंगे लेकिन हर सलाह पर अपनी परिस्थिति का विश्लेषण जरूर करें।

परिवार – परिवार के लिए समय कोई अच्छी सूचना का है। मांगलिक उत्सव की रुपरेखा बन सकती है। थोड़ा तनाव रह सकता है लेकिन परिस्थितियां कुल मिलाकर आपके अनुकूल ही रहेंगी।

सेहत – सेहत के लिए समय ठीक कहा जा सकता है। घुटनों में या पैर में कोई समस्या हो सकती है। वाहन चलाने में सावधानी रखें। चोट लगने की आशंका है।

दाम्पत्य – जीवनसाथी से किसी समस्या का समाधान मिल सकता है। साथी की सलाह कारगर रह सकती है। अविवाहितों के लिए विवाह के प्रसंग की शुरुआत हो सकती है।

सम्पत्ति – सम्पत्ति के लिए समय शुभ है। कोई बड़ी योजना बना सकते हैं। वाहन और मशीनरी का विक्रय कर सकते हैं। नई सम्पत्ति आने के योग हैं।

उपाय –

किसी गोशाला में चारे का दान करें।

पीपल को जल चढ़ाएं और रात में घी का दीपक लगाएं।

दिसंबर –

1 से 10 दिसंबर – शनि की दृष्टि एवं पंचम चंद्र होने से कार्य देरी से होंगे एवं आय में भी विघ्र आ सकते हैं। स्थायी संपत्ति में विवाद खड़ा हो सकता है। परिवार में वर्चस्व बना रहेगा एवं योजनाएं बदलनी पड़ सकती हैं। संतान से सहयोग की अपेक्षा बेकार जाएंगी। प्रेम अनुरोध अस्वीकार होंगे एवं जीवनसाथी सुख प्रदान करेगा।

11 से 20 दिसंबर – शनि की दृष्टि बनी हुई है। शनि के ढै़य्या का प्रभाव है। उसके बावजूद राशि व्यवस्थित रहेगी। कार्य समयानुसार होते रहेंगे एवं वाहनादि सुख प्रदान करने वाली वस्तुओं में व्यय होने का अनुमान है। आय सुगम बनी रहेगी एवं योजनाएं सफल होंगी। नौकरी में लक्ष्य की प्राप्ति होगी एवं किसी बड़े काम का ऑफर मिल सकता है।

21 से 31 दिसंबर – चंद्र की अनुकूलता से धन की आवक उत्तम रहेगी, किंतु प्रतिस्पर्धा कड़ी करनी पड़ सकती है। समकक्ष नुकसान पहुंचाने का प्रयास करेंगे। स्वयं पर भरोसा रखकर आगे बढ़ें। व्यापारिक योजनाएं सफल होंगी। सरकारी कार्य भी समय पर होंगे। बेकार के कार्यों मे समय नष्ट भी होगा। साल का अंतिम माह को अंतिम समय शानदार रहेगा।

नौकरी – काम में दिक्कतें आ सकती हैं। आय के साधनों पर संकट रहेगा। धन की आवक रुक सकती है। अधिकारी आपके काम से थोड़ा असंतुष्ट हो सकते हैं।

व्यापार – व्यापार में समय मंदी का हो सकता है। पिछले महीनों के मुकाबले आय कम रहेगी। किसी से धन संबंधी विवाद भी हो सकता है।

परिवार – परिवार में आपका वर्चस्व और प्रभाव अच्छा रहेगा। आपकी योजनाओं और बातों पर परिजनों की स्वीकृति रहेगी। संतान आज्ञाकारी रहेगी। सुख मिलेगा।

सेहत – सेहत के लिए समय अच्छा रहेगा। कोई बड़ी समस्या इस महीने आने की संभावना नहीं है।

दाम्पत्य – जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। आपको सम्मान और सहयोग मिलता रहेगा। प्रेमियों के लिए समय ठीक नहीं है। प्रेम प्रस्ताव अस्वीकृत हो सकते हैं। विवाह में देरी होगी।

सम्पत्ति – पैतृक सम्पत्ति में कोई विवाद खड़ा हो सकता है। इसमें आपको इस महीने नुकसान उठाना पड़ सकता है। कोई सम्पत्ति से आपको लाभ मिलने के योग भी हैं।

उपाय –

दक्षिणमुखी हनुमान की आरती करें और सिंदूर चढ़ाएं।

गरीबों को सम्मान के साथ भोजन कराएं।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*