भारत के खिलाफ ऑस्‍ट्रेलियाई टीम की घोषणा, वॉटसन बाहर

सिडनी। आस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ पहले तीन वन-डे के लिए सोमवार को घोषित 13 सदस्यीय टीम में अधिक से अधिक तेज गेंदबाजों को मौका दिया है। ऑस्‍ट्रेलिया ने चौंकाने वाला कदम उठाते हुए ऑफ स्पिनर नाथन लियोन और आलराउंडर शेन वॉटसन को जगह नहीं दी है। चयन समिति का मानना है कि पर्थ, मेलबर्न और सिडनी की पिचें तेज गेंदबाजों के लिए मददगार होंगी और इसलिए पांच मैचों की सीरीज के कम से कम पहले तीन मैचों में स्पिनर की जरुरत नहीं पडेगी।

चयनकर्ताओं ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जोएल पैरिस और स्कॉट बोलैंड के रुप में दो नए चेहरे टीम में शामिल किए हैं। पैरिस की खासियत गेंद को अच्छी तरह से स्विंग कराने की है।

केन रिचर्डसन ने भी टीम में वापसी की है। उन्होंने आस्ट्रेलिया की तरफ से आखिरी मैच 2014 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कैनबरा में खेला था। मुख्य तेज गेंदबाजों मिचेल स्टार्क, नाथन कूल्टर नाइल और पीटर सिडल के चोटिल होने के कारण बोलैंड और पैरिस को टीम में शामिल किया है।

वॉटसन, जो बर्न्स और जेम्स पैटिंसन को टीम में जगह नहीं मिली है। चयनसमिति के अध्यक्ष रॉड मार्श ने कहा कि स्कॉट और पैरिस दोनों ही टीम में जगह बनाने के हकदार थे। उन्होंने कहा- स्कॉट लगातार चयन पैनल को प्रभावित कर रहा था। उसने इस साल अपने राज्य विक्टोरिया की तरफ से बहुत अच्छी गेंदबाजी की। वह निश्चित रुप से शीर्ष स्तर पर इस मौके का हकदार था।

मार्श ने कहा- जोएल बाएं हाथ का युवा तेज गेंदबाज है जो गेंद को अच्छी तरह से स्विंग करा लेता है। कम अवधि की क्रिकेट में उनका रिकॉर्ड बहुत अच्छा है और हम वास्तव में चाहते हैं कि वह इस मौके का भरपूर फायदा उठाए। उन्होंने कहा- केन को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट खेलने का अनुभव है। हालांकि चोटों के कारण इसमें व्यवधान पड़ता रहा, लेकिन हमें लगता है कि अब वह आस्ट्रेलिया की तरफ से निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार है।

चयनकर्ता ट्रेवर होंस ने कहा कि लियोन के नाम पर भविष्य के मैचों के लिए विचार किया जाएगा और उनकी अनुपस्थिति में ग्लेन मैक्सवेल स्पिनर की कमी पूरी करेगा।

उन्होंने कहा- हम पहले कुछ मैच ब्रिस्बेन और पर्थ में खेलेंगे जहां अमूमन आप अपने तेज गेंदबाजों के साथ खेलते हो। जब हम केवल एक स्पिनर कम आलराउंडर के साथ खेलते हैं तो ग्लेन मैक्सवेल ने स्पिनर की भूमिका अच्छी तरह से निभाई है।

होंस ने कहा कि आस्ट्रेलिया जब मार्च-अप्रैल में भारत में होने वाले वर्ल्‍ड टी-20 के लिए टीम का चयन करेगा तो उसमें दो स्पिनरों को रखने पर विचार कर सकता है।

आस्ट्रेलियाई दौरे में भारत पहले पांच वन-डे खेलेगा। ये मैच पर्थ (12 जनवरी ), ब्रिस्बेन ( 15 जनवरी ), मेलबर्न ( 17 जनवरी ), कैनबरा ( 20 जनवरी ) और सिडनी ( 23 जनवरी ) में खेले जाएंगे।

वन-डे सीरीज के बाद तीन मैचों की टी-20 सीरीज होगी। पर्थ में दौरे का पहला मैच भारत और आस्ट्रेलिया के बीच पिछले साल विश्व कप सेमीफाइनल के बाद पहला मैच होगा।

आस्ट्रेलियाई टीम इस प्रकार है – स्टीव स्मिथ ( कप्‍तान ), डेविड वॉर्नर, जॉर्ज बैली, स्कॉट बोलैंड, जोश हेजलवुड, जेम्स फॉकनर, एरॉन फिंच, मिचेल मार्श, शॉन मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, जोल पैरिस ओर मैथ्यू वेड।

 

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*