भारत-यूएई मैच में लगी कीर्तिमानों की झड़ी

भारत और यूएई के बीच मीरपुर में गुरुवार को खेले गए एशिया कप मुकाबले में कीर्तिमानों की झड़ी लग गई। भारत ने यह मुकाबला 9 विकेटों से जीता। गेंद शेष रहते हुए जीत दर्ज करने के मामले में यह उसकी सबसे बड़ी जीत है।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए यूएई 9 विकेट पर 81 रन ही बना पाया। टीम इंडिया ने 59 गेंद शेष रहते 1 विकेट खोकर जीत दर्ज कर ली।

 

  • गेंद शेष रहते सबसे बड़ी जीत : भारत ने यह मुकाबला 59 गेंद शेष रहते जीता, जो इस मामले (गेंद शेष रहते जीतने) में उसकी सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले उसकी सबसे बड़ी जीत 14 फरवरी 2016 को विशाखापत्तनम में श्रीलंका के खिलाफ थी, जब उसने 37 गेंद रहते जीत दर्ज की थी।
  • भारत के खिलाफ दूसरा कम स्कोर : यूएई इस मैच में 9 विकेट पर 81 रन ही बना पाया। यह भारत के खिलाफ टी-20 मैच में किसी भी टीम का दूसरा कम स्कोर है। भारत के खिलाफ सबसे कम स्कोर (80) इंग्लैंड ने कोलंबो में 23 सितंबर 2012 को बनाया था।
  • यूएई का दूसरा कम स्कोर : यूएई ने इस मैच में 9 विकेट पर 81 रन बनाए, यह उसका अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच में दूसरा कम स्कोर है। उसका न्यूनतम स्कोर 73 था, जो उसने दुबई में 3 फरवरी 2016 को नीदरलैंड्‍स के खिलाफ बनाया था।
  • पॉवर प्ले में सबसे कम स्कोर : यूएई ने भारत के खिलाफ शुरुआती 6 ओबरों में 2 विकेट पर 21 रन बनाए। यह किसी भी टीम का भारत के खिलाफ पॉवरप्ले में संयुक्त रूप से सबसे कम स्कोर है। इससे पहले जिम्बाब्वे ने 2010 में हरारे में भारत के खिलाफ पॉवरप्ले में 2 विकेट पर 21 रन बनाए थे।
  • बिना ऑलआउट हुए दूसरा कम स्कोर : यूएई ने इस मैच में 9 विकेट पर 81 रन बनाए। यह टी-20 क्रिकेट में किसी टीम का ऑलआउट हुए बिना दूसरा कम स्कोर है। इस मामले में वेस्टइंडीज फरवरी 2010 में पोर्ट ऑफ स्पेन में जिम्बाब्वे के खिलाफ 7 विकेट पर 79 रन बनाकर शीर्ष पर है।

 

 

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*