ई-चालान अप्रैल से, तीसरी बार पकड़े गए तो लाइसेंस तुरंत कैसिंल –

इंदौर/भोपाल। इंदौर और भोपाल की सड़कों पर अप्रैल से यातायात पुलिसकर्मी रसीद कट्टे के बजाय ई-चालान काटते नजर आएंगे। तारीख कुछ अनुमतियां मिलने के बाद फाइनल की जाएगी। कुछ दिनों में राजधानी में ट्रायल के तौर पर करीब 200 ई-चालान हुए हैं, जिसमें कोई तकनीकी समस्या नहीं आई।

ये होगी व्यवस्था

– नई व्यवस्था में ई-चालान मशीन में रजिस्ट्रेशन कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस स्वैप करते ही चालक का पूरा रिकॉर्ड सामने होगा, जिसमें वह कितनी बार पकड़ा गया, किन नियमों को तोड़ते हुए पकड़ा गया आदि का विवरण होगा। इसके बाद पुलिस तुरंत आरटीओ को डीएल निरस्त करने की अनुशंसा कर सकेगी।

– सर्वर डाउन या किसी टेक्निकल दिक्कत के चलते या वाहन चालक के पास ड्राइविंग लाइसेंस या रजिस्ट्रेशन कार्ड न होने की स्थिति में मैन्यूअल (रसीद) चालान की सहूलियत भी दी जाएगी। ऐसी स्थिति में पुलिसकर्मी 500 से ज्यादा मैन्यूअल चालान नहीं काट सकेंगे।

 

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*