अम्बेडकर की जन्मस्थली महू में युवा संसाधन केंद्र खोलेगा एनवायकेएस

इंदौर। खेल और युवा मामलों के केंद्रीय मंत्रालय से सम्बद्ध नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवायकेएस) ने कहा कि वह डॉ. बीआर अम्बेडकर की नजदीकी जन्मस्थली महू में युवा संसाधन केंद्र खोलेगा, ताकि संविधान निर्माता के विचारों को नौजवान पीढ़ी तक पहुंचाया जा सके। एनवायकेएस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने अम्बेडकर की 125 वीं जयंती की पूर्व संध्या पर यहां संवाददाताओं को बताया कि इस केंद्र की स्थापना पर सरकार ने सैद्धांतिक सहमति जता दी है और इसे जल्द ही अंतिम मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

एनवायकेएस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘देश की एकता और अखंडता को बचाए रखने में अम्बेडकर के विचारों की बड़ी भूमिका है। इसलिए हम चाहते हैं कि उनके विचार ज्यादा से ज्यादा नौजवानों तक पहुंचें। हमने अम्बेडकर के विचारों के प्रसार के लिये 100 युवा क्लबों का गठन भी किया है। शर्मा ने यह भी बताया कि एनवायकेएस अम्बेडकर की जन्मस्थली महू से 21 अप्रैल को ‘सामाजिक समरसता जल यात्रा’ निकालेगा, जो इसी दिन उज्जैन पहुंचेगी।

इस यात्रा में शामिल होेने वाले कार्यकर्ता मध्यप्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से लाये जल को उज्जैन में सिंहस्थ मेले की शुरूआत से पहले क्षिप्रा नदी में प्रवाहित करेंगे। यह मेला 22 अप्रैल से शुरू होना है। उन्होेंने एक सवाल पर कहा, ‘दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में देशविरोधी नारेबाजी की घटना के बाद नौजवान समझ चुके हैं कि कन्हैया कुमार जैसे छात्र नेताओं की हकीकत क्या है। नतीजतन ऐसे नेताओं के खिलाफ नौजवान अपनी प्रेरणा से उठ खडे हो रहे हैं।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*