स्वच्छ भारत मिशन शुरू होने के 600 दिन बाद साफ दिखा शहर

नई दिल्ली। देश के आधे से अधिक लोगों का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वच्छ भारत मिशन शुरू करने के 600 दिन बाद उनका शहर साफ-सुथरा दिखने लगा। ‘लोकल सर्किल्स’ द्वारा किए गए ऑनलाइन सर्वे से यह बात सामने आई है। इसके लिए 40,000 लोगों से उनकी राय ली गई।

इसमें 52 फीसद लोगों ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन का असर तो दिखा है, लेकिन इसमें स्थानीय निकायों की भागीदारी अब भी एक बड़ी चुनौती है। 21 फीसद लोगों ने कहा कि अभियान शुरू होने के एक साल बाद ही उनका शहर पहले से ज्यादा साफ दिखने लगा।

23 फीसद लोगों की राय में सार्वजनिक शौचालयों की उपलब्धता में सुधार आया है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो अक्टूबर, 2014 को नई दिल्ली में स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की थी। इसका उद्देश्य 2019 तक देश को स्वच्छ बनाना है।

‘लोकल सर्किल्स’ लोगों को आपस में जोड़ने का एक मंच है। इसका मकसद सरकारी कामकाज से लोगों को स्थानीय और राष्ट्रीय स्तर पर जोड़ना है, ताकि उनकी जिंदगी बेहतर बनाई जा सके।

स्वच्छ भारत मिशन शुरू होने के बाद आपका शहर कैसा दिखता है?

  • -बहुत साफ हुआ : 11 फीसद
  • -कुछ साफ हुआ : 41 फीसद
  • -कोई बदलाव नहीं : 40 फीसद
  • -हालात और बिगड़े : 08 फीसद

लोगों के सुझाव

  • हर तीन महीने में एक बैठक का आयोजन होना चाहिए। इनमें आम लोगों, उद्योगपतियों, गैरसरकारी संगठनों और प्रमुख हस्तियों को बुलाया जाना चाहिए।
  • इन बैठकों में कचरा प्रबंधन, सार्वजनिक शौचालय और खुले में शौच जैसे मुद्दों पर सार्वजनिक रूप से चर्चा होनी चाहिए।
  • स्वच्छ भारत के लिए हर जिले में स्थानीय स्तर पर सलाहकार बोर्ड का गठन किया जाना चाहिए। सक्रिय नागरिकों को इसका सदस्य बनाया जाना चाहिए।
  • मिशन के निदेशालय की ओर से नगर पालिकाओं को वार्षिक लक्ष्य दिया जाना चाहिए। लक्ष्य पूरा करने वाली नगर पालिकाओं को पुरस्कृत किया जाना चाहिए।

 

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*