पानी-पानी हुआ MP, 15 की मौत, जनजीवन प्रभावित, शहरों में अलर्ट

भाेपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल सहित अनेक भागों में पिछले कुछ दिन से हो रही लगातार वर्षा से कई निचले में बाढ़ की स्थिति बन गई है और जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। वर्षा और बाढ़ से प्रदेश में 15 लोगों की मौत हुई है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यहां संवाददताओं को बताया कि प्रदेश में पिछले तीन-चार दिन से हो रही लगातार तेज बारिश और बाढ़ से आठ लोगों की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि दो लोगों की मौत भोपाल में तथा टीकमगढ़, रीवा, झाबुआ, बैतूल, रायसेन और पन्ना जिले में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।

राहत एवं बचाव
शिवराज ने बताया, बाढ़ से लोगों को राहत पहुंचाने के लिए प्रदेश स्तरीय सहायता केंद्र शुरू किया गया है। कोई भी बाढ़ पीडि़त व्यक्ति फोन नं 1079 के जरिये इस केंद्र से संपर्क कर सकता है। सतना में 300 लोगों को अस्थायी शिविर की व्यवस्था की गई है। 400 लोगों को सेना के राहत शिविर तक पहुंचाया गया है। पुलिस-प्रशासन, राजस्व और होमगार्ड के जवान बचाव कार्य में लगे हैं। रीवा के ग्राम सिरमौर भडरा में बाढ़ में फंसे 3 लोगों को सेना ने हेलीकाप्टस से निकाला।

मंत्रिमंडल की बैठक स्थगित
चौहान ने बताया कि भोपाल के पास हलाली बांध पर रविवार को होने वाली मंत्रिमंडल की बैठक स्थगित कर दी गई है। मंत्रियों को बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत कायार्ें का जायजा लेने के निर्देश दिए गए हैं।

बारिश से पानी-पानी हुआ भोपाल
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रात भर हुई बारिश की वजह से दर्जनों बस्तियों पानी में डूब गई। शहर के सैकड़ों लोगों को रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. मौसम विभाग के मुताबिक, रात भर में करीब सात इंच बारिश हुई। मौसम विभाग का आकलन है कि अगले दो-तीन दिन तक बारिश का यह दौर जारी रहेगा। रातभर से लगातार हो रही बारिश से कई जगह हालात बिगड़ चुके हैं। कई पॉश कॉलोनियों समेत निचली बस्तियां जलमग्न हो गई हैं। घरों में भरे पानी से लोगों की मुसीबतें बढ़ गई हैं। कोलार, अरेरा, झरनेश्वर कॉलोनी समेत कई जगहों पर पानी भर गया है। राजधानी में रातभर से भारी बारिश से नाले उफान पर हो गए हैं। अब तक कुल दो लोगों की मौत हो चुकी है। मिसरोद के मौसम विभाग ने प्रदेश में चेतावनी जारी कर दी है. भोपाल, इंदौर, झाबुआ, अलीराजपुर, होशंगाबाद, उज्जैन, नीमच, मंदसौर, सागर, दमोह, सिवनी, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर और जबलपुर में अलर्ट जारी कर दिया है।

खतरे के निशान से ऊपर बह रही नर्मदा नदी
मुख्यमंत्री ने बताया कि होशंगाबाद में नर्मदा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। उन्होंने बताया कि बाढ़ से लोगों को राहत पहुंचाने के लिये प्रदेश स्तरीय सहायता केन्द्र शुरू किया गया है। कोई भी बाढ़ पीड़ित व्यक्ति फोन नं 1079 के जरिये इस केन्द्र से संपर्क कर सकता है।

25 जिलों में हुई सामान्य से अधिक वर्षा
मध्य प्रदेश में एक जून से 8 जुलाई तक हुई वर्षा के आधार पर 25 जिलों में सामान्य से अधिक, 16 जिलों में सामान्य, 9 जिलों में कम और एक जिले में अल्प वर्षा हुई है। प्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए आधिकारिक जानकारी के मुताबिक सामान्य से अधिक वर्षा वाले 25 जिलों में जबलपुर, कटनी, छिन्दवाड़ा, सिवनी, मण्डला, नरसिंहपुर, सागर, दमोह, पन्ना, छतरपुर, सीधी, सतना, उमरिया, मुरैना, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया, भोपाल, सीहोर, रायसेन, विदिशा, राजगढ़ और होशंगाबाद जिले शामिल हैं।

सेना के जवानों और एसडीआरएफ ने संभाला मोर्चा
बाढ़ से लोगों के घरों में पानी घुस आया है। सैकड़ों लोग अब भी बाढ़ में फंसे हैं। यहां हुई भारी बारिश ने अब तक के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। हालात खराब होता देख सेना के जवानों और एसडीआरएफ को मोर्चा संभालना पड़ा। सतना और उसके आसपास के इलाकों में अगले कुछ घंटों में भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है।

सतना में सैकड़ों को शिविर में ठहराया
सतना के जिला कलक्टर से मिली जानकारी के अनुसार जिले की प्रमुख नदी टमस, सोन और मंदाकिनी का जल-स्तर बढ़ने से 300 प्रभावित लोगों को अस्थायी शिविर में ठहराए जाने की व्यवस्था की गई है।

राजनाथ ने CM से बात कर बाढ़ जायजा लिया 
राजनाथ सिंह ने शिवराज सिंह चौहान से फोन पर बात कर राज्य में बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया। राजनाथ ने आश्वासन दिया कि बाढ़ प्रभावित लोगों के राहत-बचाव कार्य में केन्द्र हर संभव मदद करेगा। मध्यप्रदेश में बाढ़ संबंधी हादसों में मरने वालों की संख्या बढ़कर 15 हो गयी है। पिछले 24 घंटों में बाढ़ से राज्य में सात लोगों की मौत हुई है।

इसबीच मौसम विभाग के भोपाल केन्द्र के निदेशक डॉक्टर अनुपम कश्यपी ने पीटीआई..भाषा को बताया कि अगले चौबीस घंटों में इंदौर, उज्जैन और होशंगाबाद संभागों के अलावा राजधानी भोपाल के कुछ हिस्सों में भारी से बहुत भारी वर्षा होने के आसार है।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*