मंत्री श्री शुक्ल द्वारा माखनलाल चतुर्वेदी विश्व विद्यालय के विन्ध्य परिसर का शुभारंभ

 

              विद्यार्थियों को आधुनिक शिक्षा की मिलेगी सुविधा

खनिज साधन, उद्योग एवं रोजगार मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने रीवा में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्व विद्यालय के विन्ध्य परिसर का शुभारंभ किया। विश्व विद्यालय का यह पाँचवा परिसर है। विश्व विद्यालय के चार परिसर नोएडा, खण्डवा, अमरकंटक और ग्वालियर में हैं। यहाँ तीन पाठ्यक्रम-डी.सी.ए., पी.जी.डी.सी.ए. और बी.ए.एम.सी. प्रारंभ किये गये हैं।

उद्योग मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि आज विन्ध्य क्षेत्र के लिये खुशी और गौरव का दिन है कि देश के प्रतिष्ठित विश्व विद्यालय के रीवा परिसर का शुभारम्भ हुआ है। उन्होंने कहा कि विश्व विद्यालय को भूमि का आवंटन शीघ्र करवाया जायेगा जहां अपना भवन बना सके। उन्होंने कहा कि इससे विन्ध्य क्षेत्र के विद्यार्थियों को अच्छी और आधुनिक शिक्षा मिलेगी। मध्यप्रदेश में जब आई.टी. कम्पनी के निवेश की बात होती है तो उनका प्रयास रहता है कि विन्ध्य क्षेत्र को भी इसका लाभ मिले। कम्पनियों को कम्प्यूटर कौशल के जानकार युवा चाहिये वैसे युवा विन्ध्य क्षेत्र से मिलें।

विशिष्ट अतिथि सांसद जनार्दन मिश्र ने कहा कि इससे संचार के क्षेत्र में विन्ध्य क्षेत्र की प्रतिभाओं को आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा।

कुलपति श्री कुठियाला ने कहा कि आज डिजिटल और स्किल्ड भारत की बात हो रही है। आम आदमी को भी डिजिटल से जोड़ना है। विश्व विद्यालय द्वारा पिछले पच्चीस साल से इस दिशा में काम किया जा रहा है। युवाओं को आधुनिक विधाओं में स्किल्ड बनाया जा रहा है।

कुलाधिसचिव श्री लाजपत आहूजा ने कहा कि विन्ध्य क्षेत्र में पत्रिकारिता की समृद्ध विरासत रही है। उन्होंने बताया कि विश्व विद्यालय के बी.ए.एम.सी. पाठ्यक्रम करने वाले विद्यार्थी ग्रेजुएशन स्तर की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल हो सकेंगे।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*