मध्यप्रदेश के हर जिले में बनेगा दिव्यांग बच्चों का स्कूल

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में दिव्यांग बच्चों के लिए राज्य संसाधन केन्द्र स्थापित किया जाएगा और दिव्यांग बच्चों के लिए प्रदेश के हर जिले में विशेष तौर पर एक विद्यालय स्थापित किया जाएगा।

चौहान ने शासकीय दृष्टि एवं श्रवण-बाधित उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म-दिवस को सेवा दिवस के रूप में मनाया। इस अवसर पर उन्होंने दिव्यांग बच्चों को प्रोसाहित करते हुए कहा कि उनमें क्षमता और प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। वे थोड़े से प्रयास से बड़े से बड़ा काम कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा दिव्यांग बच्चों को प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी में मदद की जाएगी। उनके लिए संचालित निरामय स्वास्थ्य बीमा योजना की प्रीमियम राशि राज्य सरकार भरेगी।

चौहान ने यहां दिव्यांग बच्चों की सेवा कर सेवा दिवस की शुरूआत की। उन्होंने बच्चों से उनके स्वास्थ एवं पढ़ाई की जानकारी ली। साथ ही बच्चों के साथ टेबल टेनिस एवं बिलियर्डस का खेल खेला। उन्होंने बच्चों को उपहार भी भेंट किए।

मुख्यमंत्री ने जरूरतमंद और कमजोर वर्ग की सेवा में योगदान देने का प्रदेशवासियों और कार्यकर्ताओं से भी अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के कल्याण के लिये अपनी सामर्थ्य अनुसार निरंतर प्रयास करने का संकल्प लें। ऐसे कल्याणकारी कार्यों एवं जनसेवा से आत्मिक सुख और आनंद की अनुभूति होती है।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*