वित्त मंत्री जयंत मलैया ने किया MP का बजट पेश, 7वें वेतन आयोग की घोषणा

 

भोपाल। वित्त मंत्री जयंत मलैया ने आज विधानसभा में साल 2016-17 के लिए प्रदेश का बजट पेश किया। वित्त मंत्री जयंत मलैया ने विधानसभा 1.58 लाख करोड़ रुपए का बजट पेश किया है। मध्यप्रदेश सरकार का साल 2016-17 के लिए बजट घाटा 118 करोड़ रुपए रहा।

बजट में सरकारी कर्मचारियों को एक जनवरी 2016 से सातवां वेतनमान देने की घोषणा की गई है। वहीं, सभी विधवाओं को पेंशन दी जाएगी तो राज्य में सात नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। जयंत मलैया ने चौथी बार बजट पेश किया हैं। इसके पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में बजट का अनुमोदन किया गया।

कृषि को बढ़ावा देने के लिए जैविक कीटनाशक और दूध दोहने की मशीन को टैक्स फ्री कर दिया है।

दूसरी तरफ ग्लास मिरर, गैस गीजर और दस हजार रुपए से अधिक की साइकिल अब और महंगी हो जाएगी। ग्लास मिरर और गैस गीजर पर लगने वाले पांच फीसदी वैट बढ़ाकर 14 प्रतिशत कर दिया है।

सरकार ने 2016-17 के बजट में स्टांप शुल्क भी बढ़ा दिया है, जिससे जमीन की कीमतों में इजाफा होगा।

एमपी में सात नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे।

कक्षा 9वीं और 11वीं में विज्ञान, गणित और कॉमर्स में एनसीईआरटी की किताबें लागू

नर्मदा सेवा यात्रा और नर्मदा नदी को संवारने के लिए बजट की कमी नहीं होगी

आईटीआई जैसों कॉलेजों के लिए 100 करोड़ का प्रावधान

निर्मल भारत मिशन के तहत प्रदेश में 23 लाख शौचालय बनाने का लक्ष्य

अमृत योजना के लिए 700 करोड़ रुपए

चिकित्सा शिक्षा के लिए बजट में 7472 करोड़ का प्रावधान

डॉक्‍टरों के लिए अनुसूचित व ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा देने के लिए विशेष भत्ता

आंगनवाड़ी में पोषक आहार के लिए 2918 करोड़ का प्रावधान

निर्मल भारत मिशन के लिए 1750 करोड़ रुपए का प्रावधान

25 नई लघु सिंचाई परियोजनाएं होंगी शुरू

सिंचाई के लिए 9 हजार 850 करोड़ रुपए का प्रावधान

प्रदेश में 33 लाख हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई की क्षमता हासिल की

फसल बीमा के लिए 2 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान

पशुपालन योजनाओं के लिए 1001 करोड़ का प्रावधान

सात लाख किसानों को प्रधानमंत्री योजना से जोड़ा जाएगा.

नई सड़कों के लिए 2850 करोड़ का प्रावधान

सभी विधवाओं को पेंशन देने का एलान

12वीं में 85 प्रतिशत से ज्यादा अंक लाने पर ट्यूशन फी माफ

पेट्रोल-डीजल पर टैक्स फिक्स करने के बाद सरकार द्वारा लग्जरी चीजों पर लगा टैक्स भी बढ़ाया है।

पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाली वस्तुओं पर टैक्स बढ़ाने का निर्णय लिया है। प्लास्टिक की वस्तुएं महंगी होगी।

बैटरी से चलने वाले वाहन सस्ते होंगे।

विलासिता के सामान महंगे कर दिए जाएंगे।

घर खरीदना हुआ महंगा।

नए मल्टीप्लेक्स में मनोरंजन कर में छूट दी जाएगी।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*