मुख्यमंत्री निवास में धूमधाम से मना बुद्ध पूर्णिमा महोत्सव

प्रदेश की समृद्धि के लिए हुई बुद्ध वंदना भगवान बुद्ध का अष्टांग मार्ग मानव समाज के कल्याण की कुंजी – मुख्यमंत्री श्री चौहान

सर्वधर्म समभाव  की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज मुख्यमंत्री निवास में भगवान बुद्ध का 2561 वाँ जयंती महोत्सव मनाया गया। बौद्ध भिक्षुओं ने मध्य प्रदेश की शांति और समृद्धि के लिए बुद्ध वाणी का वाचन किया।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बुद्ध की पवित्र वाणी ही विश्व शांति का मार्ग स्थापित कर सकता है। उन्होंने कहा कि उनके आर्य सत्य और अष्टांग मार्ग मानव समाज के कल्याण की कुंजी है। उन्होंने कहा कि यह अदभुत दर्शन है, जिसकी पूरे विश्व को जरूरत है। उन्होंने कहा कि सांची बौद्ध विश्वविदयाल के माध्यम से बौद्ध दर्शन को आम लोगों तक पहुँचाने के लिये पहल की गई है। उन्होंने कहा कि बुद्ध सिर्फ एशिया के नहीं बल्कि विश्व के प्रकाश है।

इस अवसर पर ज्ञानी दिलीप सिंह,  फादर आनंद मुतुंगल , बौद्ध भिक्षु, भंते शाक्य पुत्र सागर, भीक्खु संघ, महाबोधि सोसायटी श्रीलंका के प्रतिनिधि भिक्षुक उपस्थित थे।

त्रिशरण बुद्ध वंदना के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई। भगवान बुद्ध के जीवन और दर्शन पर आधारित मनोहारी  सांकृतिक प्रस्तुतियां दी गईं। श्री चौहान ने सभी सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के प्रत्येक कलाकार को ग्यारह हजार रूपये का सम्मान देने की घोषणा की। उन्होंने भिक्षुओं को चिवर दान दिया। मुख्यमंत्री और उनकी धर्मपत्नि श्रीमती साधना सिंह चौहान ने धर्मगुरुओं का स्वागत किया।

श्री लंका केन्द्र सांची के श्री चन्द्ररत्न थेरो ने कहा कि जो लोग मनुष्यों में भेद करते है, वे समाज और राष्ट्र दोनों को कमजोर करते हैं। विधायक श्री राजेन्द्र मेश्राम ने कहा कि मुख्यमंत्री ने सभी धर्म का सम्मान करने की पहल की है। उन्होंने सभी के सहयोग से मध्य प्रदेश में स्थायी परिवर्तन लाने का काम किया है। विधायक श्री चैतराम मानेकर ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भगवान बुद्ध की शिक्षाओं और डा.अम्बेडकर के विचारों के आधार पर कल्याण योजनाएं बनाई हैं।

इस अवसर पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री श्री लालसिंह आर्य, अनुसूचित जाति आयोग और पिछडा वर्ग आयोग के अध्यक्ष एवं पदाधिकारी और बड़ी संख्या में बौद्ध उपासक- उपासिकाएं उपस्थित थे।

 

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*