140 साल के टेस्ट इतिहास में तीसरी बार हुआ ऐसा, अश्विन-जडेजा ने मचाया धमाल

भारत ने रविवार को कोलंबो में दूसरे टेस्ट मैच में श्रीलंका को पारी और 53 रनों से हराकर सीरीज में 2-0 की अपराजेय बढ़त ‍बनाई। भारत के दो ऑलराउंडरों रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा ने अपने ऑलराउंड खेल से पूरे मैच में दबदबा बनाया। इन्होंने ऐसा कारनामा किया जो 140 साल के टेस्ट इतिहास में मात्र तीसरी बार हुआ।

टेस्ट इतिहास में मात्र तीसरी बार ऐसा हुआ जब किसी टीम के दो खिलाड़‍ियों ने एक टेस्ट में फिफ्टी-फिफ्टी बनाने के साथ-साथ किसी एक पारी में 5-5 विकेट भी लिए।

रवींद्र जडेजा ने रविवार को श्रीलंका की दूसरी पारी में 39 ओवरों में 152 रनों पर 5 विकेट लिए और इतिहास रचा दिया। श्रीलंका फॉलोऑन खेल रही थी और उसे इसके लिए मजबूर करने में अश्विन की अहम भूमिका थी जिन्होंने मेजबान टीम की पहली पारी में 69 रन देकर 5 विकेट लिए थे।

इससे पहले भारत की पहली पारी में अश्विन और जडेजा दोनों ने फिफ्टी जमाई थी। ‍अश्विन ने छठे क्रम पर बल्लेबाजी के लिए उतरकर 92 गेंदों में 5 चौकों और 1 छक्के की मदद से 54 रन बनाए थे। जडेजा नौवें क्रम पर बल्लेबाजी के लिए उतरे, लेकिन उन्होंने अपने अनुभव का लाभ उठाते हुए 85 गेंदों में 4 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 70 रनों की नाबाद पारी खेली थी।

इससे पहले ऐसा मौका 1895 और 2011 में आया था। 1895 में ऑस्ट्रेलिया के गिफेन-ट्रॉट ने इंग्लैंड के खिलाफ तथा 2011 में इंग्लैंड के टिम ब्रेसनन और स्टुअर्ट ब्रॉड ने भारत के खिलाफ किया था।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*