राहुल गांधी बोले- गुजरात की सरकार रिमोट कंट्रोल से चलती, मोदी पर ली चुटकी

अहमदाबाद। इस साल गुजरात में विधानसभा चुनाव होने हैं। देश की बागडोर संभालने के बाद पीएम मोदी की अगुवाई में भाजपा इस चुनाव में उतरेगी। खुद पीएम भी लगातार गुजरात का दौरा कर रहे हैं। इस बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात पहुंचे हुए हैं और उनके निशाने पर सीधे मोदी और केंद्र सरकार है।

गुजरात दौरे के दूसरे दिन भी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आजकल गुजरात की सरकार दिल्ली के रिमोट कंट्रोल से चलती है। गुजरात सरकार गुजरात से ही चलनी चाहिए दिल्‍ली से नहीं। इतना ही नहीं राहुल ने कहा कि हमें गुजरात में कांग्रेस की सरकार बनानी चाहिए। वहीं पाटीदार आंदोलन के जरिए भी राहुल गांधी ने राज्य और केंद्र की भाजपा सरकार को निशाने पर लिया।

गुजरात को आप रिमोट कंट्रोल से नहीं चला सकते, गुजरात को गुजरात के किसान, मज़दूर और छोटे व्यापारी चलाएंगे

— Office of RG (@OfficeOfRG) September 26, 2017

मैं पाटीदार समाज से कहना चाहता हूँ, BJP के लोगों ने आप पर गोलियां चलाई, ये कांग्रेस का तरीका नहीं है, हम प्यार और भाईचारे से काम करते हैं pic.twitter.com/Ld6wCvrHc7

— Office of RG (@OfficeOfRG) September 26, 2017

किसान, मजदूर, युवाओं की समस्याओं को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला है। राहुल ने कहा कि केंद्र 15 बड़े उद्योगपतियों का एक लाख 30 हजार करोड़ रुपये कर्ज माफ कर सकती है, मगर किसानों का कर्ज माफ करने को तैयार नहीं। गरीबों की जमीन छीनकर अमीरों को बांट दो यही गुजरात मॉडल है।

द्धारकाधीश के दर्शन के बाद अभियान का श्रीगणेश

द्वारका मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद राहुल गांधी ने सोमवार को गुजरात में कांग्रेस के चुनाव अभियान का श्रीगणेश किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश-विदेश में गुजरात मॉडल की चर्चा कर रहे हैं, लेकिन गुजरात मॉडल का मतलब अब यही रह गया कि गरीबों और किसानों की जमीन, उनके हक का पानी, बिजली पांच बड़े उद्यमियों को दे दो। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को हजार और पांच सौ का नोट पसंद नहीं आया, इसलिए उन्हें बंद करके दो हजार का नोट लेकर आए।

जीएसटी का विचार कांग्रेस का था, मगर मोदी सरकार ने उसमें टैक्स की दरें बढ़ाकर एकदम से लागू कर दिया, जिससे देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई। रोज-बरोज नकदी की लेनदेन करने वाले छोटे व्यापारी, किसान, मजदूर सबको बर्बाद कर दिया। लेकिन फिर भी प्रधानमंत्री इस मुद्दे पर जवाब देने को तैयार नहीं हैं।

पीएम मोदी ने मेड इन गुजरात, मेड इन इंडिया का वादा किया था, मगर आज कोई भी वस्तु खरीदो उसके पीछे मेड इन चाइना लिखा नजर आता है। राहुल ने कहा कि इस देश का निर्माण किसी एक नेता के भरोसे नहीं हुआ है। देश का निर्माण किसान, मजदूर, व्यापारी, युवा, महिलाओं तथा आपके दादा, नाना आदि के खून पसीना बहाने से हुआ है।

बैलगाड़ी से सभास्थल आए

द्वारका के हंजदापर गांव में राहुल बैलगाड़ी में बैठकर सभा स्थल पहुंचे। इससे पहले उन्होंने भाटिया, नंदाणा गांव में भी लोगों से मुलाकात की। खाट पर बैठकर खाटला परिषद का आयोजन किया। राहुल गांधी ने जाम खंभालिया में भाषण से पहले गुजराती में केम छो कहकर लोगों का हालचाल पूछा। उन्होंने कहा गुजरात में सभी वर्ग सरकार से परेशान हैं, सरकार किसी की सुनती नहीं है।

प्रदेश की जनता भाजपा सरकार से त्रस्त है तथा आगामी सरकार कांग्रेस की बननी तय है। राहुल गांधी तीन दिन के गुजरात दौरे पर हैं, मंगलवार को वे राजकोट में किसानों से जनसंवाद करेंगे तथा बुधवार को सुरेंद्रनगर जिले के गांवों में लोगों से मिलेंगे।

राहुल का हुआ ‘हार्दिक’ स्वागत

पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति के संयोजक हार्दिक पटेल ने ट्वीट करके कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गुजरात आगमन का स्वागत किया है। हार्दिक ने लिखा कि राहुल गांधीजी का गुजरात में स्वागत है, जयश्री कृष्ण।

मंदिर में पीढ़ीनामा में किया दस्तखत

राहुल गांधी ने द्वारका मंदिर में उसी पीढ़ीनामा में दस्तखत कर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई, जिसमें उनकी दादी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और पिता पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने द्वारका मंदिर के दर्शन के बाद दस्तखत कर भगवान के दरबार में हाजिरी लगाई थी।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*