भारतीय अधिकारियों को हनीट्रैप में फंसाना चाहता था पाकिस्तान, हुआ नाकाम

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ने भारत के तीन अधिकारियों को हनीट्रैप में फंसाकर सीक्रेट जानकारियां निकलवाने की नाकाम कोशिश की। पाक में मौजूद भारतीय उच्च आयोग के तीनों अधिकारियों को फंसाने की कोशिश हुई थी, लेकिन वक्त रहते उनको सब समझ आ गया था। उन्होंने खुद ही इस बात की जानकारी अपने सीनियर्स को दी थी।
हाफिज सईद ने फिर उगला जहर, बोला कश्मीर में लेंगे पूर्वी पाकिस्तान का बदला

तीनों अधिकारियों को फौरन वापस भारत बुला लिया गया था, अब तीनों से पूछताछ की जा रही है। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, सीनियर्स को अबतक यही लग रहा है कि तीनों सब सच बोल रहे हैं और पाकिस्तान उनसे किसी तरह की कोई जानकारी निकलवाने में कामयाब नहीं हुआ है।

जिन तीन को पाकिस्तान हनीट्रैप के जाल में फंसाना चाहता था वे हाई कमीशन में सरकारी कागजातों का अनुवाद करने का काम किया करते हैं। बता दें कि 2010 में भी ऐसा ही कुछ हुआ था। तब हाई कमीशन की प्रेस डिवीजन में काम करने वाली माधुरी गुप्ता को गिरफ्तार किया गया था, उन्होंने कथित तौर पर आईएसआई के एक अधिकारी को सीक्रेट डॉक्यूमेंट सौंप दिए थे।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*