PNB Fraud: PMLA कोर्ट ने नीरव, मेहुल के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया

मुंबई। पंजाब नेशनल बैंक में हुए 11 हजार करोड़ से ज्यादा के महाघोटाले के आरोपी नीरव मोदी, मेहुल चौकसी के खिलाफ स्पेशल पीएमएलए( Prevention of money laundering act) कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया है।

इस मामले में सीबीआई ने नीरव मोदी को अगले हफ्ते से जांच में सहयोग के लिए पेश होने के निर्देश दिए हैं। मगर नीरव मोदी ने बिजनेस का हवाला देकर पेश होने से साफ इंनकार कर दिया है। वहीं सीबीआई ने हीरा कारोबारी नीरव मोदी को स्थानीय हाई कमीशन से संपर्क साधने को भी कहा है, ताकि वो उसकी यात्रा का इंतजाम कर सके।

Special PMLA court in Mumbai issues non bailable warrant against #NiravModi and #MehulChoksi in connection with #PNBFraudCase.

— ANI (@ANI) 3 March 2018

हालांकि गैर जमानती वारंट जारी होने के खिलाफ नीरव मोदी के वकील ने हाई कोर्ट में अपील का कहा है। नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल ने कहा कि, “अभी हमें स्पेशल कोर्ट के आदेश की कॉपी नहीं मिली है। वहीं हमें ईडी ने कोर्ट में जो आवेदन दिया है, उसकी कॉपी भी नहीं मिली है। ऐसे में वो मिलने के बाद हम आगे की कार्रवाई तय करेंगे।”

We are considering to challenge order in HC on behalf of #NiravModi. But final decision shall be taken only upon seeing the order. We have not even been given copy of application that ED filed:Vijay Aggarwal to ANI on Non-Bailable Warrant(NBW) issued against #NiravModi (file pic) pic.twitter.com/jSiHynR21v

— ANI (@ANI) 3 March 2018

इस बीच नीरव मोदी ने ईडी को ई-मेल लिखकर साफ कर दिया है कि, वो भारत से बाहर अपने व्यापार को लेकर व्यस्त हैं और कोशिश कर रहे हैं कि उन बैंकों के साथ ही अपने कर्मचारियों को स्थिति को ठीक रख सकें। वहीं नीरव मोदी ने ईडी को ई-मेल लिखा है, जिसमें उन्होंने जांच को लेकर सवाल उठाए हैं। नीरव मोदी का कहना है कि,”जिस तेजी से जांच एजेंसियां हरकत में आईं हैं, उससे ये साफ हो गया है कि पहले से उन्होंने कार्रवाई का मन लिया था और मेरी किस्मत का फैसला तय हो गया था, वो भी बिना मेरा जवाब जाने।”

Still working abroad as I continue to be very engaged in trying to deal with businesses that I am involved with outside of India. Trying to ensure that so far as possible the position of these business creditors(including banks)& employees are properly considered:#NiravModi to ED

— ANI (@ANI) 3 March 2018

नीरव मोदी ने ईडी को भेजे ई-मेल में पासपोर्ट रद्द करने को लेकर भी सवाल उठाए हैं। नीरव मोदी ने ई-मेल में लिखा कि, “एजेंसियों ने मेरा पासपोर्ट रद्द कर दिया है और उस पर से एजेंसियां मुझसे जांच में सहयोग का कह रही हैं।”

The lightning speed in which the authority has acted clearly shows that the action itself was pre-determined & my fate was already decided, without even considering my reply and without any regard to law: #NiravModi in an e-mail to ED #PNBScam

— ANI (@ANI) 3 March 2018

पंजाब नेशनल बैंक में 11 हजार करोड़ से ज्यादा का घोटाला सामने आने के बाद ईडी, सीबीआई के अलावा कई दूसरी जांच एजेंसियां हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के खिलाफ जांच कर रही है। इस धोखाधड़ी में बैंक के भी कुछ अफसरों के शामिल होने की आशंका के बाद उन्हें भी गिरफ्तार किया गया है।

महाघोटाले के खुलासे से पहले ही नीरव मोदी, उनकी पत्नी एमी, भाई नीशल और मामा मेहुल चौकसी जनवरी के पहले हफ्ते में भी देश छोड़कर चले गए थे। उसके बाद से ही कोई भारत नहीं लौटा है। इस बीच सरकार ने इस घोटाले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के पासपोर्ट निरस्त कर दिए हैं।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*