दलितों के खिलाफ बेवजह केस दर्ज कर भाजपा आग से न खेले – मायावती

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने देश भर में दो अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के खिलाफ भारत बंद को बेहद सफल बताया है। लखनऊ में आज मायावती ने कहा कि दो अप्रैल को भारत बंद की सफलता से भारतीय जनता पार्टी बेहद भयभीत है। इसी भय के कारण दलित नेताओं पर केस दर्ज हो रहे हैं। उन्होंने धमकी भरे लहजे में कहा है कि दलितों के खिलाफ बेवजह केस दर्ज कर भाजपा आग से न खेले।

देश में दो अप्रैल को दलितों के भारत बंद के दौरान हुई हिंसा के बाद भी बसपा मुखिया इसको बेहद सफल बता रही हैं। इस मामले में बसपा मुखिया मायावती ने एक बार फिर भाजपा और नरेंद्र मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। मायावती ने आरोप लगाया है कि एससी एसटी एक्ट में बदलाव के खिलाफ भारत बंद में शामिल होने वाले लोगों का पुलिस उत्पीडऩ कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि दलितों को निशाना बनाया जा रहा है।

मायावती ने नरेंद्र मोदी सरकार पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि देश में इमरजेंसी से बदतर हालात हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा आग से खेल रही है। इस दौरान मायावती ने कहा कि प्रदेश में अपनी सरकार बनने पर दलितों के खिलाफ किए गए केस वापस लेने का भी ऐलान किया है।

एनडीए के दलित सांसदों के विरोधी स्वर के बाद अब बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती भी बेहद मुखर हैं। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ दो अप्रैल को बुलाया गया भारत बंद बेहद सफल रहा है। इस बड़े भारत बंद ने भाजपा को परेशान कर दिया है। प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने आरोप लगाया कि भारत बंद की कामयाबी के कारण अब भाजपा शासित राज्यों में दलितों पर अत्याचार हो रहा है।

उन्होंने आरोप लगाया कि निर्दोष दलित और उनके परिवार के सदस्यों को गिरफ्तार किया जा रहा है। दलित समुदाय के सदस्यों को प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने कहा है कि आंदोलन में हिस्सा लेने वाले दलितों पर अत्याचार की खबरें मिल रही हैं। यह रुकना चाहिए।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*