मक्का मस्जिद ब्लास्ट केसः असीमानंद समेत सभी आरोपी बरी, NIA पेश नहीं कर पाई सबूत

हैदराबाद। मक्का मस्जिद विस्फोट केस में हैदराबाद के नामपल्ली की कौर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट ने इस मामले में असीमानंद समेत सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। कोर्ट ने यह फैसला एनआईए द्वारा पेश किए गए सबूतों के अभाव में दिया है।

गौरतलब है कि 18 मई 2008 को जुम्मे की नमाज के दौरान ऐतिहासिक मक्का मस्जिद में विस्फोट में नौ लोगों की मौत हो गई थी और 58 लोग घायल हो गए थे।

इस मामले में 10 आरोपी थे जिनमें से एक की मौत हो गई थी। बाद में 5 लोगों के खिलाफ केस चलता रहा जिनमें असीमानंद भी शामिल थे। इस केस की सुनवाई के दौरान 160 गवाहों के बयान दर्ज किए गए थे। एनआईए ने 2011 में इस केस की जांच अपने हाथ में ली थी।

एनआईए मामलों की चतुर्थ अतिरिक्त मेट्रोपोलिटन सत्र अदालत ने सुनवाई पूरी कर ली है। इसने पिछले सप्ताह फैसले की सुनवाई सोमवार तक के लिए टाल दी थी। स्थानीय पुलिस की शुरुआती छानबीन के बाद मामला सीबीआई को स्थानांतरित कर दिया गया था। सीबीआई ने आरोपपत्र भी दाखिल किया। इसके बाद 2011 में सीबीआइ से यह मामला एनआइए को सौंप दिया गया।

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*