बेबी प्लान कर रही हैं तो खाएं ये 8 सुपरफूड्स

एक महिला जब प्रेगनेंट होती है तो उसे खाने के लिए ढेर सारी चीजें दी जाती हैं, लेकिन क्या आप उन सुपरफूड्स के बारे में जानती हैं जिन्हें आपको प्रेग्नेंसी से पहले खाना चाहिए? दरअसल कुछ ऐसे फूड आइटम्स हैं जो फर्टिलिटी को बढ़ाते हैं। आज हम आपको ऐसे ही फूड आइटम्स के बारे में बताएंगे।

केला
केले में पोटैशियम और विटामिन B6 होता है और यह फर्टिलिटी को इंप्रूव करने में काफी मदद करता है। यह एग और स्पर्म की क्वॉलिटी को इंप्रूव करता है और साथ ही रीप्रडक्टिव हॉर्मोन्स को भी ठीक करता है।

बींस
बींस में प्रोटीन और आयरन भरपूर मात्रा में होता है और यह फर्टिलिटी और कामेच्छा को भी बढ़ाती हैं।

कॉम्पलेक्स कार्ब्स
स्टडी में सामने आया है कि इंसुलिन का लेवल ज्यादा होने से ऑव्यूलेशन रुक जाता है। हमारी बॉडी खराब कार्ब्स को जल्दी डाइजेस्ट करती है और शुगर लेवल बढ़ा देती है। वहीं अच्छे कार्ब्स यानी कॉम्पलेक्स कार्ब्स बहुत धीरे डाइजेस्ट होते हैं और शुगर लेवल पर धीरे-धीरे असर करते हैं।

हरी पत्तेदार सब्जियां
हरी पत्तेदार सब्जियों में फोलेट और विटामिन-बी होता है और ये दोनों ऑव्यूलेशन को इंप्रूव करते हैं और महिलाओं की कामेच्छा को भी बढ़ाती हैं।

आलू
बेक्ड आलू विटामिन-सी से भरपूर होते हैं। जब ओवरी पर्याप्त मात्रा में प्रोजेस्टरोन हॉर्मोन प्रड्यूस नहीं करती तो उसमें आलू बहुत मददगार होते हैं।

कद्दू के बीज
कद्दू के बीज में नॉन हीम आयरन होता है। एक स्टडी के मुताबिक, जिन महिलाओं ने नियमित तौर पर इस आयरन का सेवन किया, उन्हें प्रेग्नेंसी के दौरान कम दिक्कतों का सामना करना पड़ा, जबकि जिन महिलाओं ने कद्दू के बीज नहीं खाए, उन्हें काफी परेशानी हुई।

ऑलिव ऑइल
ऑलिव ऑइल बॉडी में जलन को कम करता है। जलन ऑव्यूलेशन की प्रक्रिया के साथ-साथ भ्रूण की ग्रोथ को धीमा कर देती है। इसलिए अपने खान-पान में ऑलिव ऑइल को जरूर शामिल करें।

शेल फिश
शेल फिश में विटामिन-बी 12 होता है जो एन्डोमीट्रीअम लाइनिंग को मजबूत करने में मदद करती है। यही लाइनिंग प्रेगनेंट होने में मदद करती है।


Source: khabar1

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*