देवेंद्र फडणवीस का साम, दाम, दंड, भेद से जीतने वाली बात का कथित ऑडियो वायरल

मुंबई 
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का एक तथाकथित ऑडियो क्लिप के सामने आने के बाद शनिवार को राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई। इस ऑडियो क्लिप में फडणवीस कथित रूप से अपने कार्यकर्ताओं से किसी भी कीमत पर पालघर चुनाव जीतने की बात कहते सुनाई दे रहे हैं। यह ऑडियो क्लिप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार के चार साल पूरे होने और 28 मई को होने वाले प्रतिष्ठित पालघर लोकसभा उपचुनाव से महज दो दिन पहले सामने आई है। 

यह ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया और टीवी नेटवर्कों पर वायरल हो गई है, जिसमें फडणवीस बीजेपी कार्यकर्ताओं को यह निर्देश देते हुए नजर आ रहे हैं कि ‘साम-दाम-दंड-भेद’ का प्रयोग करें और किसी भी कीमत पर पालघर चुनाव जीतें। क्लिप की पुष्टि की जानी अभी बाकी है। मराठी में बोलते हुए फडणवीस ने कहा, ‘हमारे सामने एक बड़ी चुनौती है। कुछ लोग हमारे अस्तित्व को चुनौती दे रहे हैं। वह मित्रों की तरह व्यवहार करते हैं लेकिन हमारी पीठ में छुरा भोंक रहे हैं और हमें उसका जवाब देना होगा। अगर कोई हमें दादागिरी दिखाता है तो हमें उन पर जवाबी हमला करना चाहिए। उन्हें यह पता होना चाहिए कि हम उससे भी बड़े दादा हैं। मैं आपके पीछे ढृढ़ता से खड़ा हूं।’ 

फडणवीस ने पालघर चुनाव को कड़ा इम्तिहान करार देते हुए कहा, ‘चाहे जो भी हो, हम पालघर सीट जीतेंगे। यह बीजेपी की सीट थी। शिवसेना ने जो किया वह गलत था। इस सीट पर जीत हासिल करना दिवगंत चिंतामन वानगा के लिए एक सही श्रद्धांजलि होगी।’ सत्तारूढ़ सहयोगी शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार शाम को अपनी एक जनसभा में यह ऑडियो क्लिप चला कर बीजेपी को शर्मनाक स्थिति में ला दिया। 

ठाकरे के साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चव्हाण, बहुजन विकास अघाड़ी के अध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर और अन्य राजनेताओं ने निर्वाचन आयोग से ऑडियो क्लिप में धमकी भरी सामग्री पर ध्यान देते हुए फडणवीस के खिलाफ उचित कदम उठाने की मांग की है। बीजेपी प्रवक्ता गिरीश व्यास और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने हालांकि कहा है कि इस ऑडियो क्लिप से छेड़छाड़ की गई है। उन्होंने कहा कि पार्टी इस मामले में शनिवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराएगी। 


Source: khabar1

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*