वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे के खिलाफ व्यापारी पहुंचे प्रतिस्पर्धा आयोग

नई दिल्ली
अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ (कैट) ने अमेरिकी खुदरा कारोबार की कंपनी वालमार्ट और भारतीय ई कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट के बीच हुए हाल के सौदे के खिलाफ भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग का दरवाजा खटखटाया है और इसे रद्द करने की मांग की है। कैट ने आज बताया कि प्रतिस्पर्धा आयोग में वालमार्ट-फ्लिपकार्ट के सौदे के खिलाफ एक याचिका दायर की गई है।

परिसंघ के अध्यक्ष बी.सी.भरतिया एवं महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि वालमार्ट -फ्लिपकार्ट गठजोड़ से भारतीय बाजार में लागत से भी कम मूल्य पर माल बेचा जाएगा जिससे अनुचित प्रतिस्पर्धा पैदा होगी। उन्होंने कहा कि भारत में ई कॉमर्स और खुदरा कारोबार की कोई नीति नहीं है जिसका फायदा यह बहुराष्ट्रीय कंपनी उठा सकती है। वालमार्ट अपनी सहयोगी फ्लिपकार्ट के जरिए भारतीय खुदरा कारोबार में घुस जाएगी जो प्रत्यक्ष विदेशीनिवेश का खुला उल्लंघन होगा।

याचिका में कहा गया है कि वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदा देश में बेहद अनुचित प्रतिस्पर्धा बनाएगा जिसमें व्यापारियों का मुकाबला करना असंभव है इसलिए भारत के खुदरा बाजार और ई कॉमर्स को बचाने के लिए इस सौदे को स्वीकृति नहीं देकर इसे रद्द किया जाए। 


Source: SAMACHARTODAY

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*