पंजाब: शाहकोट में नहीं चला ‘SAD कार्ड’, AAP की जमानत जब्त

चंडीगढ़
पंजाब की शाहकोट सीट पर हुए उपचुनाव में जीत हासिल कर कांग्रेस की कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली सरकार ने आखिरकार दो तिहाई बहुमत हासिल कर लिया है। पार्टी ने शिरमोणि अकाली दल (SAD) को बड़े अंतर से हराते हुए सीट अपने नाम की। वहीं तीसरे नंबर पर रही आम आदमी पार्टी अपनी जमानत भी नहीं बचा सकी। गौरतलब है कि अकाली दल के विधायक अजीत सिंह कोहाड़ के निधन के बाद यह सीट खाली हुई थी।

    SAD ने कोहाड़ के बेटे नायब सिंह कोहाड़ को मैदान में उतारा था लेकिन पार्टी का यह सहानुभूति कार्ड नहीं चला। कोहाड़ कांग्रेस प्रत्याशी हरदेव सिंह शेरोवालिया से 38,802 वोटों से हार गए। हार के बाद कोहाड़ ने ईवीएम में खराबी को दोष देने की कोशिश की। गौरतलब है कि अजीत सिंह कोहाड़ यह सीट पांच बीर जीते थे और अकाली सरकारी में मंत्री रहे थे।

हालांकि, चुनाव में सबसे बड़ा झटका आम आदमी पार्टी को लगा। पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रत्याशी डॉ अमरजीत सिंह को 41,010 वोट मिले थे। इस साल मैदान में उतारे गए रतन सिंह 2000 वोट भी नहीं पा सके। केवल 1900 वोट हासिल करने वाले रतन सिंह की जमानत तक जब्त हो गई।

पूर्व आप नेता कपिल मिश्रा ने भी पार्टी की हार पर तंज कसते हुए कहा है कि आप के पास केवल विलाप करने का ही विकल्प ही बचा है। हालांकि, मिश्रा ने आप को मिले वोटों की संख्या में गड़बड़ी कर दी। गौरतलब है कि पंजाब में अपनी पैठ बनाने की कोशिश में लगी आप के लिए पिछले साल विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद यह सीट गंवाने से राज्य में नए सिरे चुनौती खड़ी हो गई है।


Source: SAMACHARTODAY

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*