दो सगे भाइयों ने नाबालिग लड़की को बनाया हवस का शिकार

कोलकाता 
हैदराबाद में एक नाबालिग लड़की को दो सगे भाइयों ने अपनी हवस का शिकार बना डाला. आरोपी चॉकलेट देने के बहाने उसे अपने घर ले गए, जहां उसके साथ रेप किया. पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और पॉक्सो कानून के तहत केस दर्ज कर लिया है. आरोपियों की तलाश की जा रही है.

जानकारी के मुताबिक, हैदराबाद शहर के एक इलाके में पीड़िता अपने परिवार के साथ रहती हैं. उसके पड़ोस में दो सगे भाई भी रहते हैं. एक हफ्ते पहले आरोपी श्रीकांत ने कक्षा तीन में पढ़ने वाली मासूम बच्ची को चॉकलेट देने के बहाने अपने घर ले गया. वहां उसके साथ उसने रेप किया. इसके बाद उसके भाई यालेश ने भी उससे बलात्कार किया.

पुलिस के मुताबिक, पीड़ित लड़की के परिजनों की तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और बाल यौन अपराध संरक्षण कानून की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेजा गया है. दोनों आरोपी फिलहाल फरार बताए जा रहे हैं. उनकी तलाश की जा रही है.

बताते चलें कि ऐसे ही नोएडा में भी रिश्तों को शर्मसार करने वाली एक सनसनीखेज वारदात सामने आई थी. यहां एक कलयुगी पिता ने अपनी ही नाबालिग बेटी को हवस का शिकार बना डाला. करीब एक सप्ताह तक हैवानियत का खेल खेलता रहा. मायके से मां के वापस आने के बाद वारदात का खुलासा हुआ. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

नोएडा फेस-2 इलाके में रहने वाले एक शख्स की पत्नी अपने मायके गई हुई थी. उसकी नाबालिग बेटी अपने पिता के साथ घर पर थी. पत्नी की गैरहाजिरी में आरोपी अपनी ही बेटी को हवस का शिकार बनाने लगा. हैवानियत का सिलसिला एक सप्ताह तक चलता रहा. इसी बीच पीड़िता की मां घर वापस आ गई. मां को देखते ही पीड़िता रोने लगी.

पीड़िता ने अपनी मां को आपबीती सुनाई, तो उसके पैरों तले जमीन ही खिसक गई. उसने पति का विरोध किया और बेटी को लेकर थाने पहुंची. थाना प्रभारी सत्येंद्र कुमार राय ने बताया कि पीड़िता की मां की तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और पॉक्सो कानून के तहत केस दर्ज किया गया है.

उन्होंने बताया कि आरोपी ने विरोध करने पर बेटी के साथ मारपीट भी की है. पीड़िता की मेडिकल जांच कराई जा रही है. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने आरोपी को स्थानीय अदालत में पेश किया. वहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया. पुलिस इस संबंध में आगे की कार्रवाई कर रही है.


Source: SAMACHARTODAY

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*