नीमच कृषि मंडी में हो रहा है करोड़ो का नुकसान

नीमच
मध्य प्रदेश के सीमांत जिले के सबसे बड़ी कृषि उपज मंडी नीमच में किसान आंदोलन के चलते किसान अपनी उपज नहीं ला रहे हैं जिसके चलते यहां होने वाले करोड़ो के व्यापार पर भारी असर पड़ा है. रोजाना जहा मंडी में 15 से 20 हजार बोरी की आवक आम दिनों में हुआ करती थी लेकिन अब नाम मात्र की आवकों में तब्दील होकर मंडी के व्यापार को ठप्प कर दिया है.

दरअसल, किसान आंदोलन के चलते मंडी में उपज की आवक नहीं आ रहे हैं, किसान अपनी उपज को रोक आंदोलन को अपना पूरा समर्थन देते हुए गांव से ही उपज को मंडी तक नहीं लेकर आ रहे हैं. मंडी में कुछ किसान आ भी रहे हैं हैं तो वे राजस्थान के है जो थोड़ी बहुत उपज लेकर मंडी में आ रहे हैं,

मंडी के व्यापारियों का कहना है कि आवक इतनी कम है कि ये ऊंट के मुंह में जीरे के सामान है. मंडी में माल की आवक नहीं होने के चलते अनुमानित रोजाना 5 से 7 करोड़ का व्यापर प्रभावित हुआ है.

बता दें कि एमपी में गांव बंद किसान आंदोलन का मिला-जुला असर देखने को मिल रहा है. आंदोलन के चौथे दिन भोपाल में किसानों ने सब्जियां फ्री में बांटीं. इसे लेने लोगों का हुजूम उमड़ा था. इस दौरान लोग थैले में सब्जियां भर कर ले गए. किसानों ने नीलबड़ इलाके में लोगो को फ्री में सब्ज़ियां बांटी.


Source: SAMACHARTODAY

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*