जवान औरंगजेब को आतंकियों ने किया अगवा, समीर टाइगर को मारने वाली टीम का था हिस्सा

शोपियां
जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक बार फिर अपनी कायरता का परिचय दिया है. पुंछ जिले के आर्मी जवान को गुरुवार को आतंकियों ने अगवा कर लिया. रायफलमैन का नाम औरंगजेब है, वो अपने घर ईद की छुट्टियां मनाने के लिए जा रहा था जिस समय उसे अगवा किया गया.

बताया जा रहा है कि आतंकी समीर टाइगर के खिलाफ सेना ने जो ऑपरेशन चलाया था, उस ऑपरेशन में औरंगजेब मेजर शुक्ला के साथ थे.

औरंगजेब की पोस्टिंग 44RR शादीमार्ग में थी, वह पुंछ का ही रहने वाला है. जिस दौरान वह घर जा रहा थे, तभी मुगल रोड पर उन्हें आतंकियों ने किडनैप कर लिया. ये किडनैपिंग सुबह करीब 9 बजे हुई है.

बताया जा रहा है कि औरंगजेब सुबह नौ बजे एक प्राइवेट व्हीकल से शोपियां की तरफ आ रहे थे. तभी कलमपोरा के पास आतंकियों ने वाहन को रुकवाया और उन्हें अगवा कर लिया.

अप्रैल में मारा गया था समीर टाइगर

इसी साल अप्रैल में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन में दो आतंकियों को ढेर कर दिया था. मरने वाले आतंकियों ने हिज्बुल मुजाहिदीन का टॉप कमांडर समीर टाइगर भी शामिल था.

कौन था समीर टाइगर?

गौरतलब है कि समीर टाइगर 2016 में हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ था. समीर पुलवामा का रहने वाला है और हिज्बुल के कई हमलों में शामिल हो चुका है. बुरहान वानी के बाद समीर को कश्मीर के पोस्टर ब्वॉय के रूप में पेश किया गया है. समीर ने आतंकी वसीम के जनाजे में शामिल होकर फायरिंग भी की थी.

गुरुवार को ही मारे गए दो आतंकी

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में रमजान के पवित्र महीने में भी आतंकी वारदात थमने का नाम नहीं ले रही हैं. गुरुवार को घाटी के बांदीपुरा के पनार में आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर हमला कर दिया, जिसका सुरक्षा बलों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया. इस मुठभेड़ में सेना ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया.

इस दौरान सुरक्षा बल और आतंकियों के बीच जबर्दस्त गोलाबारी हुई, जिसमें सेना का एक जवान शहीद हो गया. फिलहाल इलाके में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षा बलों का ऑपरेशन जारी है. आतंकियों की तलाश की जा रही है.

वहीं, इससे पहले संदिग्ध आतंकियों द्वारा अगवा SOG जवान को रिहा करा लिया गया है. इससे पहले बुधवार को जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में संदिग्ध आतंकवादियों द्वारा की गई अंधाधुंध गोलीबारी में एक पुलिसकर्मी और उसकी बहन घायल हो गए थे. आतंकवादी पुलिसकर्मी के घर में घुस गए थे और लोगों पर गोलियां चलानी शुरू कर दी थी.


Source: SAMACHARTODAY

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*