तीन दिन और दिल्ली-एनसीआर का दम घोटेगी ‘जहरीली’ हवा, रहें सतर्क

 नई दिल्ली 
करीब 55 घंटों से दिल्ली खतरनाक स्तर का प्रदूषण झेल रही है। लोग घरों और ऑफिसों में कैद हैं। जरूरी काम से ही बाहर निकल रहे हैं। प्रदूषण अभी भी खतरनाक कैटिगरी में है। सीपीसीबी के एयर बुलेटिन के अनुसार, गुरुवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 431 रहा। वहीं, सफर के 8 मॉनिटरिंग स्टेशनों पर शाम 5 बजे तक एयर इंडेक्स 1093 बना रहा। ये इलाके हैं- धीरपुर, डीयू, पीतमपुरा, पूसा, लोदी रोड, एयरपोर्ट टर्मिनल थ्री, मथुरा रोड और आया नगर। 
 

सफर के मुताबिक, दिल्ली में बच्चों, बुजुर्गों, अस्थमा मरीजों को बाहर नहीं निकलना चाहिए। सफर के पूर्वानुमान के अनुसार अब धीरे-धीरे प्रदूषण कम जरूर होगा लेकिन अगले तीन दिनों तक पीएम 10 का स्तर खतरनाक लेवल पर ही बना रहेगा। सीपीसीबी के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में सबसे अधिक प्रदूषित ग्रेटर नोएडा रहा। यहां एयर इंडेक्स 500 रहा। 

 
गुड़गांव में 485, भिवाड़ी में 421, नोएडा में 390, गाजियाबाद में 384 और फरीदाबाद में 317 एयर इंडेक्स दर्ज हुआ। सीपीसीबी के अनुसार, एनसीआर में भी कंस्ट्रक्शन ऐक्टिविटी रोकने को कहा गया है। स्टोन क्रशिंग प्लांट को भी बंद करने के निर्देश दिए गए हैं।

अभी दिल्ली से अधिक प्रदूषण एनसीआर के शहरों में है, इसलिए वहां भी इस तरह के कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं। ईपीसीए चेयरमैन डॉ. भूरे लाल ने बताया कि सभी चीफ सेक्रेटरी को निर्देश दिए हैं कि कंस्ट्रक्शन को कुछ समय के लिए रोक दिया जाए। हरियाणा के चीफ सेक्रेटरी ने इसकी पुष्टि कर दी है। वहां 24 घंटे कंस्ट्रक्शन ऐक्टिविटी पर रोक रहेगी।


Source: SAMACHARTODAY

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*