उपराष्ट्रपति घायल, जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति की रैली में ब्लास्ट

हरारे 
जिम्बाब्वे में राष्ट्रपति एमर्सन मनानगाग्वा की चुनावी रैली के दौरान शनिवार को स्टेडियम में जबर्दस्त धमाका हुआ। इस धमाके में उपराष्ट्रपति सहित कई लोग घायल हुए है। इस हमले को राष्ट्रपति की हत्या की कोशिश बताया जा रहा है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक, राष्ट्रपति को कोई नुकसान नहीं हुआ है और उन्हें घटनास्थल से सुरक्षित ले जाया गया है।  
 

सरकारी टीवी जेडबीसी के मुताबिक, बुलावायो में रैली के दौरान हुए इस धमाके में देश के उपराष्ट्रपति केमो मोहाडी और दो अधिकारी – जानू – पीएफ की अध्यक्ष एवं कैबिनेट मंत्री ओप्पा मुचिनगुरी – कशीरी और पार्टी के सचिव एंजेलबर्ट रूगेजे जख्मी हुए हैं। इसके अलावा , कई अन्य आम लोग भी धमाके में घायल हुए हैं लेकिन आधिकारिक तौर पर घायलों की संख्या अब तक नहीं बताई गई है। 

सरकारी अखबार जिम्बाब्वे हेराल्ड के अनुसार, राष्ट्रपति एमर्सन को बुलावायो के एक अतिथि गृह में ले जाया गया। राष्ट्रपति अगले महीने होने जा रहे चुनाव से पहले रैली को संबोधित कर रहे थे। अखबार ने हेडलाइन दी है, ‘ईडी (राष्ट्रपति संक्षिप्त नाम) की हत्या की कोशिश।’ 

इधर, चश्मदीदों ने बताया कि धमाका उस वक्त हुआ जब एमर्सन ने रैली में अपना संबोधन खत्म किया गया था और पोडियम से जा रहे थे। इंटरनेट पर डाले गए विडियो फुटेज में दिख रहा है कि एमर्सन अपने हाथ हिलाकर भीड़ का अभिवादन कर रहे हैं , पोडियम बंद करने के लिए मुड़ रहे हैं और खुली हुई वीआईपी टेंट की तरफ जाने वाले हैं कि तभी कुछ सेकंड के भीतर धमाका हो जाता है। लोग अपनी जान बचाते हैं , चीखते – चिल्लाते हैं और वहां धुएं का गुबार नजर आता है। 

सरकारी टीवी ने धमाके के तुरंत बाद अपना प्रसारण बंद कर दिया। बुलावायो जिम्बाब्वे का दूसरा सबसे बड़ा शहर है और परंपरागत तौर पर इसे विपक्ष का गढ़ माना जाता है। राष्ट्रपति के प्रवक्ता जॉर्ज चाराम्बा ने बताया कि जांच चल रही है। राष्ट्रपति को सुरक्षित बचा लिया गया। वह बुलावायो के सरकारी अतिथि गृह में हैं। उन्होंने इशारा किया कि पिछले कुछ साल में एमर्सन की हत्या की कोशिशें कई बार हो चुकी हैं। 

आगामी 30 जुलाई को होने जा रहा चुनाव 1980 के बाद ऐसा पहला चुनाव है जिसमें पूर्व राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे इस दक्षिण अफ्रीकी देश में नहीं हैं। एमर्सन ने स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराने का इरादा जाहिर किया है। पिछले दो दशकों में पहली बार पश्चिमी देशों के पर्यवेक्षकों को जिम्बाब्वे के चुनावों पर नजर रखने के लिए आमंत्रित किया गया है। 

बता दें कि इसके कुछ घंटे बाद ही इथियोपिया में प्रधानमंत्री की रैली में धमाका हुआ। इथियोपिया में हुए हमले में एक शख्स की मौत हो गई जबकि कई लोग जख्मी हो गए। वहां यह हमला देश के नए प्रधानमंत्री की ओर से राजधानी में एक विशाल रैली में अपना भाषण खत्म करने के तुरंत बाद हुआ। 
 


Source: NEWS

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*