पुलवामा से AK-47 लेकर गायब SPO आतंक की राह पर, हिज्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़ा

श्रीनगर

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा से हथियार समेत गायब स्पेशल पुलिस ऑफिसर (SP) ने आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन ज्वाइन कर लिया है. जैसे ही बुधवार की सुबह पंपौर पुलिस स्टेशन को खबर मिली कि इफरान अहमद का कोई पता नहीं चल रहा है. पुलिस के अधिकारियों के कान खड़े हो गए.

एसपीओ इरफान अहमद पंपौर पुलिस स्टेशन के SHO की सुरक्षा में तैनात था, और सुबह से AK-74 के साथ गायब था. पुलिस के मुताबिक आखिरी बार इरफान का लोकेशन पुलवामा के लूलीपोरा नेवा के पास था.

जम्मू-कश्मीर पुलिस की ओर से SPO इरफान अहमद तक पहुंचने के लिए इलाके की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा था, कि इस बीच हिज्बुल मुजाहिद्दीन ने दावा किया है कि फरार SPO इरफान अहमद डार उसके साथ जुड़ गया है.  

आतंकी संगठन ने बताया कि पुलवामा के नेहामा काकापोरा का रहने वाला इरफान अहमद हिज्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़ गया है. SPO के गायब होते ही पुलिस अधिकारियों को अंदेशा हो गया था कि इरफान किसी आतंकी संगठन से जुड़ गया है.

इससे पहले 24 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक सिपाही तारिक अहमद पखेरपोरा बडगाम जिले से अपनी एके-47 राइफल और गोला बारूद समेत लापता हो गया था. जबकि अप्रैल महीने के शुरुआत में दक्षिणी कश्मीर में गायब हुए सेना का जवान इदरीस मीर के आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हो जाने की बात भी सामने आई थी.

गौरतलब है कि पिछले कुछ महीनों में घाटी में जम्मू कश्मीर पुलिस के जवानों के हथियार लेकर फरार होने के मामले सामने आए हैं. मई महीने में जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक कॉन्स्टेबल चार रायफल लेकर फरार हो गया था. इस घटना के एक दिन बाद आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने दावा किया था कि पुलिस कॉन्स्टेबल उनके संगठन के साथ जुड़ गया है.


Source: NEWS

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*