पॉर्न देख 4 बच्चों ने किया 4 साल की बच्ची से रेप

कानपुर 
उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक अजीब मामला सामने आया है। यहां चार साल की बच्ची के साथ रेप की घटना सामने आई है। हैरानी वाली बात यह है कि रेप का आरोप 6 से 10 साल की उम्र वाले चार बच्चों पर लगा है और बच्चों ने यह अश्लील हरकतें कथित रूप से पॉर्न विडियो से सीखीं। फिलहाल, पुलिस ने सभी चार बच्चों के खिलाफ पॉक्सो ऐक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। 

चार साल की बच्ची के साथ बच्चों के रेप किए जाने का यह मामला जिले के महाराजपुर थाना क्षेत्र का है। थाना प्रभारी राकेश मौर्य ने बताया कि घटना 30 जून शनिवार की है। बच्ची के पिता की ओर से इस मामले में 2 जुलाई को प्राथमिकी दर्ज कराई गई। 

बदहवास हालत में खेत में मिली 
बच्ची के पिता ने दी गई तहरीर में कहा है कि उनकी बच्ची बदहवास हालत में खेत में मिली थी। जब होश में आई और आपबीती बयां की तो लोग दंग रह गए। बच्ची ने कहा कि उसके साथ गंदी हरकत की गई। 

मौर्य ने बताया कि एक आरोपी 12 वर्ष का है जबकि अन्य तीन की उम्र छह से 10 साल के बीच है। बताया गया कि बच्ची बदहवास हालत में खेत में पाई गई और जब होश में आई और आपबीती बयां की तो लोग दंग रह गए। सभी आरोपियों को को बाल न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सभी ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों को कबूल लिया है। 

आरोपियों को बाल सुधार गृह भेजा 
पुलिस ने बताया कि सभी आरोपियों को बाल न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सभी ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों को कबूल लिया है। 

बच्ची ने घटना के बारे में जब परिवार वालों को बताया तो पड़ोसियों ने एफआईआर दर्ज नहीं कराने की सलाह दी थी लेकिन पिता ने हिम्मत दिखाई और पुलिस को सूचना दी। मौर्य ने बताया कि प्रकरण में आगे जांच की जा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह भी कहा जा रहा है कि इन बच्चों ने रेप से पहले पॉर्न फिल्में देखीं और मासूम बच्ची के साथ वही चीजें दोहराने की कोशिश कीं। 

पुलिस ने बताया कि जांच में पता चला कि बच्चे मोबाइल में पॉर्न विडियो देखते थे। उसी से उन्हें सेक्स के बारे में जानकारी हुई। मोबाइल पर देखने के बाद उन्होंने वैसी ही हरकत बच्ची के साथ की। 


Source: Buisness

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*