कोर्ट के अंदर फर्जी जमानत लेने वाले 10 सदस्य गिरफ्तार

भोपाल
भोपाल की एमपी नगर थाना पुलिस ने जिला कोर्ट में चल रहे फर्जी जमानतदारों के गिरोह का पर्दाफाश करते हुए 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.गिरोह में शामिल हिस्ट्रीशीटर बदमाश इमरान उर्फ बबलू चिकना उर्फ यूसुफ ने पूछताछ में बाकी के सदस्यों का खुलासा किया.जबलपुर में रहने वाली गिरोह की सदस्य सफिया फर्जी बहियां बनाने के साथ फर्जी जमानतदार की व्यवस्था करती थी. पुलिस ने आरोपियों के पास से 42 अलग-अलग जिलों के अधिकारियों की सीलें, 28 बहियां बरामद की हैं.

बदमाश बबलू चिकना के पास से 3 बहियां के साथ प्रधानमंत्री आवास योजना के फार्म, राशन कार्ड, नगर निगम के पट्टों के कार्ड समेत कई सरकारी दस्तावेज मिले हैं. ये शातिर बदमाश दलालों और कुछ कथित कर्मचारियों और अफसरों की सांठगांठ से कोर्ट के अंदर गिरोह का संचालन कर पूरे सरकारी सिस्टम की धज्जियां उड़ा रहे थे.इससे पहले भी पुलिस कई फर्जी जमानतदारों को पकड़ चुकी है लेकिन पहली बार इतनी बड़ी संख्या में गिरोह से जुड़े सदस्यों की गिरफ्तारी ने पूरे सरकारी सिस्टम पर सवाल खड़े किए हैं.

कोर्ट में सक्रिय गिरोह के तार जबलपुर से जुड़े हैं.गिरोह के सदस्य जबलपुर से नकली बहियां बनाने का काम करते थे.ये बहियां भोपाल आती हैं और इन्हीं बहियों के सहारे गिरोह के दूसरे सदस्य फर्जी जमानतदारों का इंतजार कर कोर्ट के अंदर फर्जीवाड़ा करते हैं.मुख्य आरोपियों के अलावा जबलपुर का अशरफ उर्फ बबुआ, भोपाल से भवानी सिंह, सैय्यद मसीहउद्दीन, तरुण घोष और लल्लू उर्फ राजेश फर्जी जमानतदार बनकर जज के सामने पेश होते थे.भोपाल जिला कोर्ट के अंदर सक्रिय फर्जी जमानतदारों का गिरोह पूरे सिस्टम पर हावी है.सालों से दलालों और बदमाशों की सांठगांठ से संचालित हो रहे गिरोह का पर्दाफाश जरूर हुआ है लेकिन जज के सामने पेश हो रहे फर्जी जमानदारों की वजह से सिस्टम पर सवाल खड़े होने लगे हैं.


Source: NEWS

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*