दोमुंहे सांप की तस्करी, 4 गिरफ्तार, 5 लाख में करते थे सौदा

खंडवा
जिले की पिपलोद पुलिस को दो – मुहे दुर्लभ साँप ( लाडी) के तस्करों  के पर्दाफाश करने में बड़ी सफलता मिली है । वजन डेढ़ किलो करीब है तथा उसका मुल्य बाजार में एक से डेढ़ करोड़ पर है इस सिलसिले में पुलिस ने चार आरोपियों को धरदबोज कर उनके पास से नकदी व हथियार भी जब्त किए हैं । इसके अलावा आरोपियो जिस गाड़ी से आए थे उसे भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है ।बताया जा रहा है कि आरोपित युवक दो मुंहे सांपों की तस्करी करने के लिए भीलखेड़ी के लिए जा रहे थे। यहां पांच लाख रुपए में सांप का सौदा एक ग्रामीण से हुआ था।

दरअसल, पुलिस अधीक्षक रुचिवर्धन मिश्र ने बताया कि 12 जुलाई गुरुवार को मुखबिर से सूचना मिली कि एक लाल रंग की ऑल्टो कार mp13cb1795 में सवार कुछ लोग अवैद्य हथियार लिए हुए जसवाड़ी टोल नाके से सिंगोट तरफ जा रहे हैं।उक्त सूचना पर थाना प्रभारी उनी अमित कोरी , स उ नी चंद्रकांत , प्रधान आरक्षक राजेन्द्र ठाकुर , आरक्षक हाकरिया , आर इरशाद , आर हमीद , आर सुनील रवाना होकर सिंगोट पेट्रोल पंप के पास पहुचे की सामने से आती लाल रंग की ऑल्टो कार दिखाई दी । कार चालक पुलिस को देख तेजी गति से कार भगाने लगा।कार में सवार तीनो संदिग्ध कार को सिंगोट के आगे लगभग एक किमी दूर स्कूल के सामने वाहन को छोड़ कर खेतो में भागने लगे । जिनको पुलिस टीम ने घेराबंदी कर दबोच लिया ।पूछताछ में इन्होंने अपना नाम हरीश पिता भवरसिंह भील उम्र 25 साल निवासी बांग्ला बिल्लोद थाना सागौर जिला धार , कृष्णा पिता विनोद सोनी 28  साल निवासी गांधीनगर मनावर जिला धार , अभिषेक पिता अनिल शर्मा 18 साल निवासी किशोर नगर खण्डवा ।

इनकी तलासी लेने पर 2 लाख 70 हजार रु , एक देशी पिस्तौल , 3 जिंदा कारतूस व छुरा जब्त किया । उन्होंने पूछताछ में बताया कि हमारा सौदा भिलखेड़ी के किशन नाम के व्यक्ति से हुआ था जो हम लेने जा रहे थे । आरोपियो की निशान देही पर किसान पिता भारतसिंह भिलखेड़ी के कब्जे बरामद कर गिरफ्तार किया गया।आरोपियो के खिलाफ पुलिस ने विभन्न धाराओं में प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है । पुलिस अधीक्षक रुचिवर्धन मिश्र ने पिपलोद थाने की टीम को न केवल प्रशंसा पत्र दिए बल्कि 10 हजार रुपए के इनाम की भी घोषणा की ।


Source: NEWS

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*