IND vs WI: इस मामले में एशिया के नंबर वन कप्तान बने विराट, मिसबाह छूटे पीछे

नई दिल्ली
भारतीय कप्तान विराट कोहली बल्लेबाजी करने मैदान पर उतरें और कोई रेकॉर्ड न बने ऐसा हो ही नहीं सकता। राजीव गांधी स्टेडियम में खेले जा रहे हैदराबाद टेस्ट को ही ले लीजिए। यहां पहली पारी में उन्होंने 45 रन बनाए। इस दौरान कप्तान विराट ने एक उपलब्धि अपने नाम की। वह टेस्ट में सबसे अधिक रन बनाने वाले एशियाई कप्तान बने। उन्होंने पूर्व पाकिस्तानी कप्तान मिसबाह उल हक के रेकॉर्ड को पीछे छोड़ा।

मिसबाह उल हक को छोड़ा पीछे
वेस्ट इंडीज के खिलाफ पहली पारी में उन्होंने 27वां रन लेते ही यह एशियाई रेकॉर्ड अपने नाम कर लिया। 29 वर्षीय विराट के नाम कप्तान के तौर पर 42 मैचों की 69 पारियों में 65.12 के शानदार औसत से 4233 रन दर्ज हैं। इस दैरान उन्होंने 17 शतक और 9 अर्धशतकीय पारियां खेली हैं। दूसरी ओर, मिसबाह उल हक ने 56 मैचों में पाकिस्तानी की कप्तानी करते हुए 51.39 की औसत से 4214 रन बनाए थे।

ऐसा है धोनी-गावसकर का रेकॉर्ड
सबसे सफल भारतीय कप्तान माने जाने वाले एमएस धोनी की बात करें तो उनके नाम 60 मेचों में 3454 रन दर्ज हैं। वह इस मामले में भारतीय लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं, जबकि लिटिल मास्टर के नाम से मशहूर सुनील गावसकर (47 मैच, 3449) तीसरे नंबर पर हैं।

ग्रीम स्मिथ के नाम है वर्ल्ड रेकॉर्ड
टेस्ट में कप्तान के रूप में सबसे अधिक रनों की बात करें तो यह वर्ल्ड रेकॉर्ड साउथ अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ के नाम हैं। उन्होंने 109 मैचों में 8659 रन बनाए हैं, जबकि ऑस्ट्रेलिया के एलन बॉर्डर (93 मैचों में 6623 रन) दूसरे नंबर पर हैं, जबकि रिकी पोंटिंग का नंबर तीसरा है। उन्होंने 77 मैचों में 6542 रन बनाए हैं।


Source: राजनीति

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*