तेजस्वी के वार पर जदयू का पलटवार, कहा- जवानों के शहीद होने पर न करें राजनीति

पटना
बिहार में जदयू ने मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए थाना प्रभारी पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के बयान को लेकर कटाक्ष करते हुए कहा कि यदि वह शहीद पुलिसकर्मियों का सम्मान नहीं कर सकते तो कम से कम अपमान भी न करें।

जदयू प्रवक्ता का तेजस्वी पर तंज 
जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि तेजस्वी जी, पुलिस के जवान अपनी बेनामी संपत्ति बचाने के लिए नहीं, बल्कि समाज और देश की सुरक्षा एवं अपने कर्तव्यों का पालन करने के लिए शहीद होते हैं। इन पुलिसकर्मियों के बलिदान पर कम से कम राजनीति नहीं की जानी चाहिए। 

शहीदों के बलिदान पर राजनीति करना उचित नहीं 
नीरज कुमार ने कहा कि वैसे जदयू का उद्देश्य इन मुद्दों पर कभी भी राजनीति करने का नहीं रहा है लेकिन तेजस्वी को पता होना चाहिए कि वर्ष 1996-1998 के दौरान बिहार में नरसंहार की चार घटनाओं में 11 पुलिसकर्मी शहीद हुए थे। जदयू प्रवक्ता ने कहा कि 06 फरवरी 1999 को पटना के चकिया में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के चालक शहीद हुए थे। उन्होंने कहा कि तेजस्वी जी, इन सभी पुलिसकर्मियों के बलिदान ने ही हमें सुरक्षित रखा है। इस कारण इनके बलिदान पर राजनीति करना उचित नहीं। नीरज कुमार ने कहा कि वर्ष 1996-98 के दौरान बिहार में उनकी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की ही सरकार थी।

उल्लेखनीय है कि खगड़िया जिले में परबत्ता थाना क्षेत्र के दुधैला बहियार में शुक्रवार देर रात अपराधियों और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ में पसराहा थाना के प्रभारी आशीष कुमार सिंह शहीद हो गए। इस पर तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर सीएम नीतीश पर जमकर हमला बोला था।  


Source: राजनीति

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*