तुर्की मीडिया का दावा- हत्या से पहले खाशोगी को दी गई यातनाएं, काट दी गई थी उगलियां

अंकारा
 तुर्की के दैनिक अखबार ‘येनी सफाक’ ने बुधवार को खबर दी कि इस्तांबुल स्थित रियाद के वाणिज्य दूतावास के भीतर सऊदी पत्रकार जमाल खाशोगी की हत्या से पहले उन्हें यातना दी गई। अखबार ने कहा कि उसने इससे संबंधित ऑडियो रिकॉर्डिंग सुनी है। सरकार समर्थक अखबार ‘येनी सफाक’ ने कहा कि खाशोगी के कथित हत्यारों ने पूछतताछ के दौरान पत्रकार की उंगलियां काटकर उसे यातना दी। पत्रकार खशोगी के लापता होने के बाज एेसा पहली बार हुआ है कि जब तुर्की की मीडिया ने एेसी कोई संदिग्ध टेप सुनने का दावा किया है। 

सऊदी वाणिज्य दूतावास गए थे खाशोगी
अखबार ने कहा कि वाशिंगटन पोस्ट के लिए काम करने वाले खाशोगी की यातना के बाद हत्या कर दी गई।  खाशोगी अपनी तुर्क प्रेमिका से होने वाली शादी से पहले आधिकारिक दस्तावेजों के लिए सऊदी वाणिज्य दूतावास गए थे। दूतावास में प्रवेश के बाद वह लापता हो गए। तुर्की की पुलिस का यह मानना है कि खाशोगी की हत्या 15 सऊदी अधिकारियों की विशेष टीम ने की, लेकिन रियाद ने इन दावों को निराधार बताया है।
 


Source: खेल

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*