भिंड से हटाये गये कलेक्टर आशीष गुप्ता ने कही अपनी बात

भिंड
चुनाव आयोग के निर्देश पर हटाये गये भिंड के कलेक्टर आशीष कुमार गुप्ता ने अपने का निष्पक्ष और पाकसाफ बताया है। उन्होंने कहा है कि हटाने के पीछे के कारण मुझे पता नहीं है लेकिन यदि यह कहा जा रहा है कि उत्तरप्रदेश के वोटरों को अपने जिले में जोड़े गये हैं तो यह असंभव है। उन्होंने छुट्टी मांगने वाले कर्मचारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने संबंधी बात पर भी सफाई दी है।

कलेक्टर रहते आशीष कुमार के खिलाफ कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग को शिकायत की थी कि  वे भाजपा के लिये काम कर रहे हैं तथा उत्तर प्रदेश के कई वोटरों को जिले में जोड़े गये हैं। इसके चलते आयोग ने गुप्ता को हटाने के निर्देश दिये थे। उनके स्थान पर आईएएस धनराजू एस को पदस्थ किया गया है। गुप्ता का कहना है कि मैने चुनाव आयोग के हर निर्देश का पालन किया है। मेरे खिलाफ षणयंत्र किया गया है।

जिले के दो अधिकारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने संबंधी जारी पत्रों के बारे में आशीष कुमार ने कहा है कि कलेक्टर रहते एक बैठक में निर्देश दिये थे कि कोई कर्मचारी या अधिकारी अनावश्यक तौर पर अवकाश न ले। चुनाव के चलते अगर कोई ऐसा करता है तो उसे अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने के लिये संबंधित विभाग को लिखा जायेगा। ये निर्देश इसलिये दिये थे कि हर कोई कर्मचारी अवकाश के लिये आवेदन न दे सके। इसी के परिप्रेक्ष्य में अनिवार्य सेवानिवृत्ति के लिये संबंधित विभागों को लिखा गया होगा।


Source: खेल

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*