रजनीकांत ने इशारों में मोदी को बताया ताकतवर, अटकलें तेज

चेन्नै 
अभिनेता से नेता बने रजनीकांत के बयान पर अटकलें तेज हो गई हैं। 2019 में आम चुनाव में वह पीएम नरेंद्र मोदी के साथ जाएंगे या विपक्षी गठबंधन के साथ, यह अभी साफ नहीं है, लेकिन उन्होंने अपने बयान में मोदी को मजबूत बताते हुए अटकलों को एक बार फिर हवा दे दी है। रजनीकांत का कहना है कि अगर 10 पार्टियां किसी एक के खिलाफ मिलकर गठबंधन कर रही हैं, तो समझना चाहिए कि कौन ज्यादा पावरफुल है। हालांकि रजनी ने अपनी सफाई में यह भी कहा है कि बीजेपी विपक्ष के लिए खतरनाक है।  

मंगलवार को पोएस गार्डन स्थित अपने आवास पर मीडिया से बातचीत में रजनी ने बीजेपी के बारे में अपने बयान को लेकर सफाई देते हुए कहा, ‘कल मुझसे सवाल पूछा गया था कि सभी विपक्षी पार्टियां बीजेपी के खिलाफ एकजुट हो रही हैं, क्या बीजेपी एक खतरनाक पार्टी है। मैंने कहा कि अगर वे ऐसा सोचते हैं तो ऐसा है। बीजेपी विपक्षी पार्टियों के लिए खतरनाक है। मैं इस पर अपनी निजी राय नहीं रखना चाहता हूं।’ 

दरअसल रजनीकांत से पूछा गया था कि क्या आपको लगता है कि बीजेपी वाकई एक ताकतवर पार्टी है, जिसके कारण विपक्ष को उसके खिलाफ महागठबंधन करना पड़ रहा है। इस पर रजनीकांत ने कहा कि अगर 10 पार्टियां यह सोच रही हैं, तो हो सकता है कि उनके लिए वाकई यह सच हो। 

इसके बाद जब रजनीकांत से पूछा गया कि महागठबंधन बनाम पीएम नरेंद्र मोदी में आप किसे ज्यादा ताकतवर मानते हैं, तो इस पर सुपरस्टार ने कहा, ‘मैं इस समय बीजेपी या पीएम मोदी पर कोई बयान नहीं देना चाहता हूं, लेकिन हां, अगर 10 पार्टियां किसी एक के खिलाफ एकजुट हो रही हैं, तो आप समझ सकते हैं कि कौन ज्यादा पावरफुल है।’ 

उनसे जब आगे पूछा गया कि क्या आप वाकई मानते हैं कि पीएम मोदी ज्यादा ताकतवर हैं तो इस पर उन्होंने कहा, ‘हां, वाकई। क्योंकि जैसा मैंने कहा कि अगर विपक्ष किसी एक के खिलाफ गैंग बना रहा है तो कौन ज्यादा पावरफुल है इसका अंदाजा लगाया जा सकता है।’ 

जब सुपरस्टार से पूछा गया कि क्या वह बीजेपी के साथ समझौता करेंगे तो इस पर उन्होंने कहा कि इस बारे में बाद में फैसला होगा। बता दें कि इससे पहले रजनीकांत ने सोमवार को चेन्नै एयरपोर्ट के बाहर पत्रकारों से बातचीत में भी कुछ इसी तरह का जवाब दिया था, लेकिन इससे यह स्पष्ट नहीं हो पाया था कि आखिर वह किसका समर्थन कर रहे हैं। 

ऐसे में मंगलवार को आया रजनीकांत का बयान बीजेपी के लिए सकारात्मक संकेत माना जा रहा है। हालांकि रजनीकांत ने अभी यह पूरी तरह से साफ नहीं किया है कि 2019 में वह किसके साथ गठबंधन करेंगे। सोमवार को रजनीकांत ने बीजेपी सरकार के नोटबंदी के फैसले की आलोचना भी की थी। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के लागू करने का तरीका गलत था और इस विषय पर विस्तार से चर्चा के बाद ही फैसला लिया जाना चाहिए था। 

बता दें कि रजनीकांत के समर्थक अपने फेवरिट स्टार की राजनीतिक पार्टी की घोषणा की आस लगाए हुए हैं। फैंस को उम्मीद है कि रजनी 12 दिसंबर को अपने जन्मदिन के मौके पर पार्टी की आधिकारिक घोषणा कर सकते हैं। बता दें कि अभिनेता पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि वह राजनीतिक पारी का आगाज करेंगे और अगले विधानसभा चुनाव में तमिलनाडु की सभी 234 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे । फिलहाल, उन्होंने अपनी पार्टी का गठन नहीं किया है। 


Source: राजनीति

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*